यदि आप भी व्यापारी हैं तो बच कर रहना जुबैर और इमरत जैसे लोगों से …वरना ये आप का भी कर सकते हैं वही हाल …


व्यापार के कुछ उसूल होते हैं , कुछ नियम होते हैं और कुछ सिद्धांत होते हैं .. इसमे एक दूसरे पर विश्वास करना भी बड़ा पहलू माना जाता है .. लेकिन जब कोई व्यापार के नाम पर पीठ में छुरा घोंपता है तो एक बार सबसे शांत क्षेत्र व्यापार में भी अविविश्वास जैसी गलतफहमी पनपती है ..

मामला है राजस्थान के अलवर का ..यहां थाना टपूकड़ा की पुलिस ने एक व्यापारी के 2 अपहरणकर्ताओं को पकड़ लिया जिसके नाम जुबेर और इमरत हैं.. दोनो ने व्यापार को अपहरण से जोड़ लिया था  और किसी के विश्वास के साथ इन्होंने धोखा किया ..

दोनों ने एक बड़े व्यापारी को प्लास्टिक के दाने सस्ते दामों पर उपलब्ध कराने का वादा किया .. काफी दिन फोन आदि पर बात चलती रही और जब अंतिम डील के लिए 30 अप्रैल को  व्यापारी वो दाने वहां देखने पहुँचा जहां उन्होंने उसे बुलाया था तो उन्होंने उस व्यापारी का अपहरण कर लिया और उसके परिवार से 15 लाख की फिरौती मांगी .. 

पैसे ना देने पर उन्होंने उस व्यापारी के कत्ल की धमकी भी दी .. डरा सहमा परिवार पुलिस के पास गया और पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए जुबेर और इमरत को गिरफ्तार कर लिया .. अब पुलिस इन दोनों की गैंग में शामिल बाकी अन्य अपराधियो की तलाश में छापेमारी कर रही है .. पुलिस का कहना है कि इस आपराधिक नेटवर्क का भंडाफोड़ जल्द से जल्द किया जाएगा..

माना जा रहा है कि जुबेर और इमरत बारी बारी से इसी प्रकार से व्यापार बदल बदल कर अलग अलग व्यापारियों को बुलाते थे और उनके अपहरण कर के उनके परिवार से मोटी रकम वसूलते थे … ये अपराधी वेबसाइट से व्यापारी का नम्बर उठा कर उस से सम्पर्क गांठते थे फिर कुछ दिन में उसे विश्वास में ले लेते ठगे .. इस घटना के बाद व्यापारी वर्ग दहशत में है और ऐसे दरिंदों पर कठोर कार्यवाही की मांग कर रहा है ..


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...