Breaking News:

दीवाली से पहले दिल्ली-NCR वासियों को बड़ा झटका, आज से महंगा हुआ मेट्रो का सफर

दिल्ली की लाइफ लाइन कहे जाने वाली दिल्ली मेट्रो को आज किराया महंगा हो गया है। पहले ही अगस्त के महीने में दिल्ली मेट्रो का किराया बढ़ा था जिसका अधिकतम किरया बढ़ा 50 रुपए था जो अब बढ़ कर 60 रुपए हो गया है। इसका प्रभाव सीधे तौर पर आम आदमी के जेब पर पड़ेगा, इससे आम आदमी का बजट भी प्रभाबित होगा। डीएमआरसी ने पिछले पांच महीनों में ये दूसरी बार किराया बढ़ाया है। अब से 2 किलोमीटर- 10 रुपये, 2-5 किलोमीटर- 20 रुपये, 5-12 किलोमीटर-30 रुपये, 12-21 किलोमीटर-40 रुपये, 21-32 किलोमीटर-50 रुपये, 31 किलोमीटर से ज्यादा- अधिकतम 60 रुपये देने होंगे।

दिल्ली सरकार पिछले 10 दिनों से हर संभव कोशिश कर रही थी कि किरया बढ़ोतरी न हो सोमवार को दिल्ली सरकार की मांग पर अंतिम समय में दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन बोर्ड सदस्यों की आपात बैठक बुलाई गई। करीब डेढ़ घंटे तक चली बैठक में किराया बढ़ोतरी पर ही सहमति बनी। अब मेट्रो का किराया अपने तय समय पर 10 अक्तूबर यानी मंगलवार को लागू हो गया है। अब अधिकतम 50 रुपए से बढ़कर 60 रूपए कर दिया गया।

दिल्ली सरकार की लगातार बोर्ड बैठक बुलाने की मांग पर बोर्ड के चेयरमैन व केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने सोमवार रात 8 बजे आपात बैठक बुलाई। बैठक में दिल्ली सरकार के सभी नामित सदस्यों ने सरकार का पक्ष रखा, लेकिन बोर्ड ने डीएमआरसी एक्ट की धारा 37 का हवाला देकर किराया बढ़ोतरी को लागू करने की मंजूरी दे दी। राष्ट्रीय अवकाश व रविवार को पहले की ही तरह छूट मिलेगी, लेकिन यह छूट नए बढ़े हुए किराये के हिसाब से होगी।

राष्ट्रीय अवकाश व रविवार वाले दिन सबसे ज्यादा नुकसान 5 से 12 किलोमीटर तक का सफर करने वाले यात्रियों को होगा क्योंकि अभी उन्हें इसके लिए 10 रुपये देने होते हैं लेकिन अब यह 20 रुपये हो जाएगा। बोर्ड ने कहा कि धारा 37 के मुताबिक बोर्ड किराया निर्धारण समिति (एफएफसी) की सिफारिशों को मानने के लिए बाध्य हैं। इस विषय पर अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम मेट्रो किराया बढ़ोतरी के खिलाफ है और इस पक्ष में केंद्र सरकार ने हठ रुख अपनाया।

Share This Post