जीएसटी काउंसिल की अहम बैठक आज, तय होंगी सोने और कपड़ों की दरें

नई दिल्ली : वस्तु एवं सेवा कर परिषद की बैठक आज होने जा रही है। इस बैठक में सोने, कपड़े, बिस्कुट सहित छह आइटम्स के लिए दरें तय की जाएंगी। केंद्र और राज्य सरकारें इस नई अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था को एक जुलाई से लागू करने की तैयारियों में जुटी हैं। वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता वाली जीएसटी परिषद में राज्यों के वित्त मंत्री भी शामिल हैं। आज होने वाली इस बैठक में कुछ वस्तुओं पर कर दरों की समीक्षा भी हो सकती है। 
इसके अलावा बैठक में जीएसटी के लागू होने के बाद फॉर्म के प्रारूप के लिए नियमों को भी मंजूरी दी जा सकती है। वित्त मंत्रालय ने बयान में कहा कि ये बैठक इस दृष्टि से महत्वपूर्ण है कि इसमें शेष आइटम्स पर कर और उपकर की दरों को अंतिम रूप दिया जाएगा। जीएसटी नियमों के मसौदे को और संबंधित फॉर्मों को मंजूरी भी एजेंडा में है। जीएसटी परिषद ने पिछले महीने 1,200 वस्तुओं और 500 सेवाओं के लिए 5, 12, 18 और 28 प्रतिशत की दरें तय की थीं। इसके अलावा अहितकर और लग्जरी उत्पादों पर 28 प्रतिशत की उंची कर दर के अलावा उपकर भी लगाया गया था। 
इसके साथ ही शनिवार को इस बैठक में सोना-चांदी, मोती, कीमती पत्थरों, सिक्कों जैसे वस्तुओं पर टैक्स तय किया जाएगा। जानकारी के मुताबिक, बंगाल और केरल चाहते हैं कि सोने पर 2 फीसदी लेवी लगे और अन्य राज्य चाहते हैं कि सोने पर 5 फीसदी का टैक्स लगे। इंडिया के जेम्स एंड ज्वैलर्स फेडरेशन ने 2.25 फीसद की लेवी तय की है। इसके पीछे उनका मानना है कि सोने का उपभोग लग्जरी है। वहीं, जो लोग कम कर की वकालत कर रहे हैं उनका कहना है कि ज्यादा लेवी से स्मगलिंग को बढ़ावा मिलेगा।
Share This Post