सुर्खियाँ बना जयपुर का वो होटल जिसने एक साथ रुकने के लिए कमरा लेने वाले मुस्लिम लडके और हिन्दू लडकी को दिया ये जवाब

मॉब लिंचिंग जैसी घटनाओं की बाढ़ जैसे आने के बाद जब उसमे कभी गाय , कभी हिन्दू तो कभी मुसलमान जैसे एंगल दिए जाने लगे तब से तमाम व्यापारियों और ऐसे संस्थानों ने भी सतर्कता रखनी शुरू कर दी है जो अब तक ऐसे मामलो से अछूते रहे हैं . जिस प्रकार से जान बूझ कर ऐसे मामलो को सम्प्रदायिक रंग दिया गया उसके बाद अब कई जगहों से ऐसे मामले सुनने को आ रहे हैं जो हिन्दू और मुस्लिम के नाम पर अपने व्यवसायिक सिद्धांतो से पीछे हटते दिखाई दिए हैं .

फ़िलहाल इसी प्रकार से आज कल चर्चा में आ गया है कांग्रेस शासित राजस्थान का एक होटल जिसने ऑनलाइन बुकिंग करवाने वाले एक जोड़े को साफ मना कर दिया है की वो उन्हें कमरा नहीं दे सकता है .. इतना ही नहीं इसके लिए होटल मैनेजमेंट ने पॉलिसी व पुलिस का आदेश होने का हवाला दिया.. होटल में हिन्दू लडकी के साथ कमरा बुक करवाने वाला उदयपुर का एक असिस्टेंट प्रोफेसर है जिसने   शनिवार शाम 5 बजे जयपुर के होटल सिल्वर की में ओयो के माध्यम से कमरा बुक करवाया था ..

लेकिन बाद में होटल ने उसके साथ रुकने वाली लडकी को हिन्दू धर्म से जान कर उसे कमरा देने से मना कर दिया .. यहाँ खास बात ये है की मुस्लिम प्रोफेसर खुद को पीड़ित के रूप में दिखाने लगा क्योंकि उसको होटल वाले ने हिन्दू लडकी के साथ रुकने नही दिया .. उसके अनुसार ‘‘रिसेप्शनिस्ट ने मेरी फ्रेंड की डिटेल मांगी। मैंने अपनी दोस्त का नाम बताया तो उसने समस्या होने की बात कही। रिसेप्शनिस्ट ने कहा कि आप दोनों अलग-अलग धर्म से हो। ऐसे में हम आपको चेक-इन नहीं करने दे सकते।’’

जयपुर होटल के मैनेजर गोवर्धन सिंह ने बताया, ‘‘हम अलग-अलग धर्म के लोगों को साथ रुकने की मंजूरी नहीं देते हैं। यह होटल की पॉलिसी है..  जयपुर होटल के मैनेजर गोवर्धन सिंह ने बताया, ‘‘हम अलग-अलग धर्म के लोगों को साथ रुकने की मंजूरी नहीं देते हैं। यह होटल की पॉलिसी में भी है.. जब ये मामला ट्रेवेल एप पर उठाया गया तो उसने पूरी रकम वापस भी कर दी .. यहाँ पर वो प्रोफ़ेसर खुद के   २० वीं सदी का होने की बात करता दिखा .. लेकिन जयपुर का होटल सिल्वर इन इसके चलते सोशल मीडिया की सुर्खिया बना हुआ है ..

 

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे लिंक पर जाएँ –

http://sudarshannews.in/donate-online/

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW