Breaking News:

लंदन, न्यूयॉर्क की तरह कोलकाता में भी नदी के अंदर चलेगी मेट्रो, जल्द पूरा होगा काम

कोलकाता : भारत में आपने आज तक सिर्फ टनल के नीचे मेट्रो को चलते देखा होगा, लेकिन आपने कभी नदी के नीचे चलने वाली मैट्रो नहीं देखी होगी। पर जल्द ही अब आप नदी के नीचे भी मेट्रो को दौड़ता हुए देखेंगे। यह देश का पहला प्रॉजेक्ट है, जो की कोलकाता में पूरा होने जा रहा है।

बता दें कि यह मैट्रो हुगली नदी के नीचे चलेगी। इस मैट्रो के टनल का काम अगले सप्ताह तक पूरा कर लिया जाएगा। इस टनल के जरिए हावड़ा और कोलकाता के बीच मेट्रो कनेक्टिविटी शुरू होगी। आपको बता दें कि नदी के नीचे सुरंग, कोलकाता में रेलवे के 16.6 किमी लंबे ईस्ट-वेस्ट मेट्रो प्रोजेक्ट का अहम हिस्सा है।

यह 520 मीटर लंबी दोहरी सुरंग है जिसमें से एक पूर्व की ओर जाने वाली है और दूसरी पश्चिम की ओर जाने वाली है। इसका निर्माण नदी के तल से 30 मीटर नीचे किया गया है। हावड़ा और महाकरन मेट्रो स्टेशन के यात्री 1 मिनट के लिए नदी के नीचे से गुजरेंगे। टनल में मेट्रो की स्पीड 80 किमी प्रति घंटा होगी।

इस रूट पर मेट्रो 10.6 किलोमीटर का सफर टनल के जरिए करेगी, जिसमे नदी के नीचे बना 520 मीटर का टनल भी शामिल है। सूत्रों के मुताबिक, नदी के नीचे टनल बनाने में 60 करोड़ रुपये का खर्च आया है, जबकि ईस्ट-वेस्ट मेट्रो प्रॉजेक्ट पर कुल 9,000 करोड़ रुपये का निवेश किया गया है।

वहीं, रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है की टनल का काम पिछले साल अप्रैल में शुरू हो गया था और जल्द ही पूरा होने जा रहा है। ईस्ट-वेस्ट मेट्रो अगस्त 2019 में शुरू होने की आशंका जताई जा रही है। रेल अधिकारी के मुताबिक इस टनल में आपातकालीन सेवा के लिए वैकल्पिक रास्ता भी बनाया गया है।

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW