बलिदानी पुलिसकर्मियों की याद में तो बीत गया “पुलिस स्मृति दिवस” पर उनकी स्मृति कब जो निर्दोष हो कर भी काट रहे हैं जेल या कर चुके हैं आत्महत्या ?

पुलिस के बलिदानियों को आज का दिन समर्पित रहा.. पूरे भारत के तमाम बड़े नेताओं और बड़े से बड़े पुलिसकर्मियो

Read more

सब इंस्पेक्टर शैलेंद्र सिंह व सिपाही प्रशांत की कराह व आत्महत्या करने वाले कई पुलिसकर्मियों की आह के बाद ट्विटर पर टॉप ट्रेंड हुआ #पीड़ितखाकी

ये खबर जब तक लिखी ही जा रही थी तब तक जानकारी मिली कि बस्ती में छात्रनेता कबीर तिवारी हत्याकांड

Read more

पुलिस बार्डर स्कीम हटाने व पुलिसकर्मियों के किराया माफी का विरोध कर के कानून व्यवस्था दुरुस्त करने के दांव पेंच बताने वाले बस्ती SP के बस्ती में ही ध्वस्त हुई कानून व्यवस्था.. गोलियों से भून डाला गया छात्रसंघ अध्यक्ष कबीर और उन्मादी हुए छात्र

अभी कुछ दिन पहले उत्तर प्रदेश शासन द्वारा विभिन्न जनपदों के पुलिस अधीक्षकों व अन्य उच्चाधिकारियों से एक आख्या मांगी

Read more

यदि योगी सरकार ने सब इंस्पेक्टर शैलेन्द्र सिंह के लिए हिम्मत दिखाई होती तो लखनऊ, मथुरा और अब झांसी में पुलिस की दुर्दशा न हो रही होती

अगर पुलिस के कार्यों को प्रदेश स्तर पर देखा जाय तो हर स्थान के हालात एक जैसे नहीं दिखेंगे.. देश

Read more

कितनी मौतों के बाद सत्ता ये मानेगी कि दर्द में हैं खाकी वाले ? वो कौन सा सबूत है जो पुलिसकर्मी मर कर भी नही दे पा रहे ?

उनके कन्धो पर हर दिन नई – 2 जिम्मेदारी लादने से पहले ये तो देख लेते कि कन्धो में कितना

Read more

सभ्य समाज का सबसे बड़ा कुसंस्कार है “गाली”. समय आ गया है इसके विरोध में खड़े होने का- “ओमा दी अक” काशी का चिंतनीय लेख

गाली..एक कुसंस्कार… —————— ” भारत एक संस्कार है… एक ऐसा संस्कार जिसके समक्ष महान यूनान, ताकतवर मिश्र, सांस्कृतिक फारस, चालाक

Read more

जन्मजयंती विशेष: जातिवाद के विरोध में अपने नाम से श्रीवास्तव हटा शास्त्री जोड़ लिया था कभी जिस कांग्रेस पार्टी के नेता लाल बहादुर जी ने.. क्या आज उसी कांग्रेस की राजनीति का केंद्र बन चुका है जातिवाद ?

कहना गलत नहीं होगा कि देश आज जिन अति संवेदनशील मुद्दों से गुजर रहा है उसमे जातिवाद सबसे प्रमुख है.

Read more

हाथों को बाँध व पैरों को जकड़ कर भेज दिया जाता है कई जिला दूर और कहा जाता है- “हर तरह का अपराध रोको”.. “वर्दी वाला न मरे… पर वो क्या करे ?”

अगर आप सडक से जा रहे हैं और कोई बच्चा रोता दिखाई दे तो यकीनन आप सवाल करेंगे कि क्या

Read more

वर्दी पर कीचड़ उछाल कर क्या अब चमकेंगे सफ़ेद कुर्ते ? वर्दी का अपमान कर के नहीं हो सकता सत्ता का सम्मान

योगी सरकार के लिए आफत बन रहे उनके ही विधायक.. समाज के रक्षक पुलिस वालों को अपमानित कर के अपमान

Read more

क्यों दुष्प्रचार का शिकार बनाये जा रहे हैं नोएडा SSP वैभव कृष्ण ? जबकि आंकड़ों का ग्राफ व जनता का रुख कुछ और ही कहता है

यद्दपि किसी सक्रिय पुलिस अधिकारी को उसका पूरा कार्यकाल निष्कलंक पूरा करना वैसे ही होता है जैसे काजल की कोठरी

Read more