7 दिसम्बर: “सशस्त्र सेना झंडा दिवस” पर नमन करें राष्ट्र के लिए न्योछावर हो गए सभी वीर बलिदानियों को और साथ दें उनके परिजनों का

ये वो दिन है जब देश की रक्षा के लिए खुद का जीवन समर्पित कर गए वीर बलिदानियों के परिवार

Read more

6 दिसंबर: आज ही गिरा था वो ढांचा जिसे कुछ ने नाम दे रखा था “बाबरी” का, जहाँ अब बनेगा श्रीराम मंदिर.. दिवंगत सभी श्रीराम भक्तों को भावभीनी श्रद्धांजलि

इस दिन ने इतिहास को पलट कर और बदल कर रख दिया था.. इस से पहले न जाने कितने शासकों

Read more

4 दिसम्बर- भारत की समुद्री सीमाओं के प्रहरी, राष्ट्र के रक्षक नौसैनिकों को “नौसेना दिवस” की समस्त राष्ट्रवादियों की तरफ से हार्दिक शुभकामनाएं

ये उन योद्धाओं का दिन है जो समंदर की उफनती लहरों को चीर कर दिन रात नजर रखते हैं सीमाओं

Read more

1 दिसम्बर: सैल्यूट कीजिये भारत की सीमाओं के सजग प्रहरियों को आज BSF स्थापना दिवस पर, जो तन कर खड़े हैं राजस्थान की रेत, हिमालय के बर्फ व असम की बरसात में भारतवासियों की रक्षा के लिए

जरा कल्पना कीजिये उस स्थान की जहाँ ऊपर से सूरज चमक रहा हो और नीचे रेत भट्टी जैसी तप रही

Read more

20 नवम्बर: तमाम इस्लामिक मुल्कों से अकेले लड़ कर जीते इजरायल ने आज 1949 में गिनी थी यहूदियों की जनसंख्या, जो बची थी मात्र 10 लाख.. उसके बाद उठाया बड़ा कदम खुद के अस्तित्व को बचाने के लिए

दुनिया के अगर सबसे खुद्दार देशों की और सबसे खुद्दार जनता की लिस्ट बनाई जाए तो यकीनन उसमें इजरायल के

Read more

19 नवम्बर: जन्मजयंती वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई जी. उनकी गौरवगाथा को जानने वाला राष्ट्र अब जानना चाहता है उस गद्दार परिवार को जिसने दिया था रानी के विरुद्ध अंग्रेजों का साथ

नकली कलमकारों व चाटुकार इतिहासकारों द्वारा भले ही तमाम वीर व वीरांगनाओं के इतिहास को आम जनता ने जैसे तैसे

Read more

550 वें प्रकाश पर्व पर नमन है सिख धर्म के संस्थापक धर्म रक्षक गुरु नानक देव जी को.. वो नानक जी जो समर्पित रहे धर्मरक्षा को

सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव जी हिंदुस्तान की वो अनमोल विभूति हैं जो अनंतकाल तक मानवता व धर्मरक्षा

Read more

30 अक्टूबर: पुण्यतिथि पर नमन है महर्षि दयानंद सरस्वती जी को.. वो दयानंद जिन्होंने हिंदू धर्मग्रन्थों में मिलावट करने की ब्रिटिश व मुगल साजिश को ध्वस्त किया

जब अंग्रेजों ने भारत के अनंत काल से जीवंत सभ्यता का अध्ययन किया तो उन्होंने ये पाया था कि सनातन

Read more

17 अक्टूबर: वो दिन जब श्री गुरूजी गोवलकर मिले थे कश्मीर के महाराजा हरि सिंह ने, जिसके बाद भारतमाता के मणिमुकुट कश्मीर का विलय हुआ हिंदुस्तान में

17 अक्टूबर भारत के इतिहास का वो दिन है जो देश के अखंडता के लिए हमेशा याद किया जाएगा. यही

Read more

12 अक्टूबर: जन्मजयंती राजमाता विजयाराजे सिंधिया जी. जो प्रतीक बनी रही सादगी व् सेवा भाव का

जो धन धान्य से पूर्ण हो उसको अक्सर मद या अहंकार से ग्रसित जरूर देखा रहा होगा आप ने .

Read more