13 फ़रवरी – बलिदान दिवस वीर बुद्धू भगत.. अंग्रेजो की बंदूकों के खिलाफ लड़े थे कुल्हाड़ी से और पूरा परिवार पाया था वीरगति

सच्चे वीरों का बलिदान ..क्यों भूल गया है हिंदुस्तान.. बुधु भगत – – एक वो बलिदानी जिसने खुद के साथ

Read more

12 फरवरी – धर्मग्रन्थों में मिलावट करने की ब्रिटिश व मुगल साजिश को ध्वस्त करने वाले महर्षि दयानंद सरस्वती जयंती की समस्त धार्मिकों को हार्दिक शुभकामनाएं

जब अंग्रेजों ने भारत के अनंत काल से जीवंत सभ्यता का अध्ययन किया तो उन्होंने ये पाया था कि सनातन

Read more

11 फ़रवरी- बलिदान दिवस, धर्मनिष्ठ व राष्ट्रवाद के प्रतीक प. दीनदयाल उपाध्याय जी

सुविधाओं में पलकर कोई भी सफलता पा सकता है; पर अभावों के बीच रहकर शिखरों को छूना बहुत कठिन है। 25 सितम्बर, 1916 को

Read more

10 फरवरी- बलिदान दिवस क्रांतिवीर सोहनलाल पाठक.. आज़ादी के युद्ध में हांगकांग, मनीला, अमेरिका से ला रहे थे हथियार और बर्मा में झूल गये थे फांसी जबकि इतिहास के पन्ने रंग दिए गए क्रूर मुगलों की वाहवाही से

कभी एक दौर था जिसको गुलामी कहा जाता था, उस समय इंसानों को दास बना कर रखने की प्रथा थी

Read more

9 फरवरी- अत्याचारी अंग्रेज अफसर रेंड का वध कर के आज ही फांसी पर झूल गये थे क्रांतिवीर बालकृष्ण चाफेकर

जानते है वीर बहादुर बालकृष्ण चापेकर और उनके भाइयों के जीवनकाल का इतिहास. चापेकर बंधु दामोदर हरि चापेकर, बालकृष्ण हरि

Read more

8 फरवरी – क्रान्तिपुत्री कल्पना दत्त पुण्यतिथि… इन्होंने लूट लिए थे अंग्रेजों के हथियार और बांट दिए थे क्रांतिकारियों में

जब जब भारत की आज़ादी की किताबों के अनुसार चर्चा होती है तब तब केवल कुछ लोगों को महिमामण्डित किया

Read more

7 फरवरी- बलिदान दिवस क्रांतिवीर शचीन्द्र नाथ सान्याल.. मिली थी 2 कालेपानी की सजा, घर भी हो गया था जब्त. फिर भी कुछ “बागों” से मांगा जा रहा आज़ादी में हमारे पूर्वजों के बलिदान का हिसाब

ये दोष है भारत की आजादी के नकली ठेकेदारों का और अक्षम्य पाप है उनकी चाटुकारी करने वाले तथाकथित इतिहासकारों

Read more

6 फ़रवरी- 9 योद्धाओं के साथ पाकिस्तान के 250 इस्लामिक आतंकियों को मार कर आज ही सदा के लिए अमर हो गये थे परमवीर नायक यदुनाथ सिंह

बहुत शोर सुना होगा आपने आज कल टीपू सुल्तान आदि नामो का .  तमाम आधारहीन तथ्यों को तोड़ मरोड़ कर

Read more

5 फरवरी- 22 ब्रिटिश पुलिसकर्मियों को मार कर आज ही हुई थी चौरीचौरा क्रांति, जिसे वामपंथी इतिहासकार आज तक कहते हैं “कांड”.

उनका हथियार उठा कर अंग्रेजो को उनकी ही भाषा मे जवाब देना गलत मान लिया गया था.. ये इतिहास था

Read more

4 फरवरी- बलिदान दिवस महायोद्धा तानाजी मालसुरे.. दक्षिण भारत से क्रूर मुगलों का संहार करते हुए वीरगति मिली तो छत्रपति शिवाजी बोले- “गढ़ आया पर सिंह गया”

इनका इतिहास बहुत कम पढने को मिलेगा आपको . असल में इनके इतिहास को वो कलमकार लिख भी नहीं सकते

Read more