हिन्दू और हिंदुत्व की बातों से “दुखी” हो जाती थी सेकुलर और मॉडर्न लड़की “ख़ुशी” .. उसकी ख़ुशी थी अशरफ शेख में जो बना उनकी मौत भी

वो बेहद आधुनिक ख्यालों की लड़की थी . उसको धर्म आदि की बातों से कोई मतलब नहीं था , वो तो बस अपनी दुनिया में खुश थी जिसकी नीव में अशरफ शेख नाम का एक ऐसा व्यक्ति था जो बाद में उसकी मौत की वजह बन गया . ग्लैमर की चकाचौंध वाली जिन्दगी के पीछे एक ऐसा स्याह सच छिपा था जिसको ख़ुशी देख नहीं पाई और अंत में लाश मिली थी लावारिश हालत में उस चेहरे को विकृत कर के जिसके लिए कभी अशरफ शेख ने कई चक्कर लगाए थे .

यहाँ कत्ल हुआ है एक भरोसे और एक ऐसी दुनिया का जिसकी बड़ी सी इमारत को बिना नीव के खड़ी कर दिया था ख़ुशी ने. वो सोशल मीडिया में सेकुलर वर्ग की बातों से बहुत प्रभावित रहती थी और हर इंसान को एक ही नजर से देखती थी पर उसको नहीं पता था कि हर कोई एक जैसा नहीं होता .. जब महाराष्ट्र में नागपुर और पांडुरना के बीच राष्ट्रीय राजमार्ग ४७ पर शहर से लगभग ५० किमी दूर चतरपुर में एक उभरती मॉडल का शव पाया गया तब पता चला कि वो लाश उसकी थी ..

उसको कत्ल करने के लिए इतनी बेरहमी दिखाई गई थी कि उसके सिर और चेहरे को बुरी तरह से कुचला गया था। इस संबंध में केलवद पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जाँच शुरू की। शुरुआती जाँच में खुशी के बॉयफ्रेंड अशरफ शेख का नाम सामने आया, जो गिट्टीखदान के कथित ड्रग्स का धंधा करने वाले का बेटा है। पुलिस के अनुसार हत्या के बाद सबूत को नष्ट करने का भरपूर प्रयास किया गया लेकिन अशरफ गिरफ्तारी से बच नहीं पाया. जब पुलिस ने उसके मोबाइल की लोकेशन चेक की, तो पता चला कि वो दोनों शुक्रवार को देर रात तक एकसाथ थे।

Share This Post