Breaking News:

सुदर्शन के हर दावे पर मुहर लगा गए मशहूर डायरेक्टर मधुर भंडारकर जब उन्होंने बताया बॉलीवुड में फ़ैली नफरत नरेंद्र मोदी के खिलाफ

सुदर्शन हमेशा से ये कहता रहा है कि भारतीय सिनेमा बॉलीवुड हिन्दू तथा हिंदुत्व की तो जमकर खिलाफत करता ही है लेकिन वह देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से भी नफ़रत करता है. अब सुदर्शन कि बात पर पूरी तरह से मुहर लगा दी है बॉलीवुड के मशहूर डायरेक्टर मधुर भंडारकर ने तथा दिखाया है बॉलीवुड का वो काला सच जिससे आप भले अनजान हों लेकिन सुदर्शन इस बात को हमेशा से जनता है तथा देश को  बताता भी रहा है. मधुर भंडारकर ने कहा है कि 2014 मेंमोदी को प्रधानमंत्री बनने से रोकने के लिए बॉलीवुड ने पूरी ताकत लगा दी थी.

गौरतलब है कि बॉलीवुड फिल्म निर्माता-निदेशक मधुर भंडारकर और भारतीय जनता पार्टी के बीच की नजदीकी जाहिर है. लेकिन अब मधुर भंडारकर ने मोदी को लेकर बॉलीवुड कि नफरत को देश के सामने रखा है. मधुर भंडारकर ने कहा, बॉलीवुड के ज्यादातर एक्टर, निदेशक और फिल्म निर्माता प्रधानमंत्री के तौर पर नरेंद्र मोदी को पचा नहीं पाए. उस समय फिल्म इंडस्ट्री दो खेमे में बंट गई. मधुर भंडारकर ने कहा कि 2014 के चुनाव में मोदी प्रधानमंत्री न बन पाए इसलिए बॉलीवुड के 40-50 बड़े दिग्गज एक हो गए तथा इन लोगों का एक ऐसा मंच तैयार हुआ जो मोदी के विरुद्ध था. मधुर भंडारकर ने कहा कि बॉलीवुड की मोदी के प्रति नफरत को देखकर वह हैरान रह गए थे क्योंकि ये लोग मोदी को प्रधानमंत्री बनने से रोकने के लिए अंदर ही अंदर एक बड़ा अभियान चला रहे थे. उन्होंने कहा कि वह समझ नहीं पाए कि आखिर बॉलीवुड क्यों मोदी जी से इतनी नफरत करता है.

मधुर भंडारकर कि माने तो मोदी विरोधी इस मंच को काउंटर करने के लिए एक खेमा और बना, जिसमें मैं हूं तथा अनुपम खेर जैसे कई एक्टर भी इसमे शामिल हैं. भंडारकर ने यहां तक कह दिया कि इंडस्ट्री में हर कोई पॉलीटिक्स से जुड़ा हुआ है. मधुर भंडारकर ने कहा कि लेकिन जब लोकसभा चुनाव परिणाम आये तो मोदी विरोधी बॉलीवुड खेमा का अभियान पास्ट हो चूका था तथा देश कि जनता ने भारी मतों के साथ मोदी जी को देश कि सत्ता सौंप दी थी. मधुर भंडारकर के अनुसार, आज भी बॉलीवुड के बड़े दिग्गज मोदीजी को नापसंद करते हैं.

Share This Post