कई लोग जिस शाहरुख़ के थे फैन उस पर लगा सनसनीखेज आरोप.. अकेले ही नहीं, पूरा खानदान है शामिल

शाहरुख खान नाम से सब लोग परिचित है और बहुत तो उसको हीरो मानते है पर वो केवल पर्दे के हीरो है। इस बात को सुदर्शन ने हमेसा मुखर हो के उठाया है और उठाता रहेगा। विदित हो कि शाहरुख खान पर फरजीवाड़ा करने का आरोप लगा है। शाहरुख खान अपनी प्रॉपर्टी लिस्ट को लेकर चर्चा में रहते हैं। इस बार वो प्रॉपर्टी में फर्जीवाड़ा करने को लेकर चर्चा में है।

मिली जानकारी के अनुसार मुंबई के अलीबाग में विला बनाने को लेकर उन पर खेती की जमीन पर बंगला बनाने के लिए जालसाजी और नियमों की अनदेखी का आरोप लग रहा है। भले ही शाहरुख खान की कई पीढ़ियों ने खेत-खलिहान नहीं देखे हों, लेकिन सरकारी दस्तावेजों में वो बाकायदा किसान हैं।

आपको बता दे कि शाहरुख ने मुंबई के अलीबाग में सी फेसिंग बंगला जिस जमीन पर तैयार कि‍या है सरकारी रिकॉर्ड में ये खेती की जमीन के तौर पर दर्ज है। ये जमीन समंदर किनारे मौजूद है।
अब आरोप है कि अलीबाग में जिस पांच एकड़ जमीन पर शाहरुख का बंगला बना है वो जमीन उन्होंने खेती करने के नाम पर खरीदा था, हालांकि उस पर उन्होंने एक शानदार बंगला बनवा लिया। ये आरोप महाराष्ट्र के पर्यावरणविद सुरेंद्र धवले ने लगाए हैं। उन्होंने ठाणे के खार पुलिस स्टेशन में लिखि‍त रूप में इसकी शि‍कायत भी की है। इसके मुताबिक शाहरुख और उनकी पत्नी ने जमीन के लिए फर्जीवाड़ा किया।
सूत्रों से पता चला है कि साल 2004 में डेजा वू फार्म्स प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी के जरिए ये जमीन खरीदी गई थी।

कहा गया कि डेजा वू कंपनी खेती और खेती के विकास का काम इस जमीन पर करेगी पर डेजा वू फार्म्स नाम की कंपनी ने साल 2004 से अब तक खेती बाड़ी के मद में एक रुपये का काम नहीं किया है। डेजा वू फार्म्स कंपनी के नाम पर शाहरुख खान ने 2006-07 में 8 करोड़ 45 लाख रुपये का लोन लिया था। जो अब तक चुकाया नहीं गया है। सरकारी दस्तावेज में इस कंपनी के डायरेक्टर शाहरुख के ससुर और गौरी खान के पिता रमेश छिब्बा हैं। 

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW