बॉलीवुड से उठी ऐसी आवाज जिसने खामोश कर दिया मोदी के खिलाफ बॉलीवुड में ही खड़ी असहिष्णुता गैंग को

बॉलीवुड के अंदर से ही अब बॉलीवुड की उस गैंग के खिलाफ आवाज उठने लगी है जो मोदी सरकार के खिलाफ तो देश में असहिष्णुता का रोना रोती हैलेकिन देश की मूल समस्याओं पर मौन साध लेती है. देश की किसी भी तरह की समस्यायों और गंभीर मुद्दों पर बात न करनेवालों बॉलिवुड के सितारों को करारा जवाब दिया है बॉलिवुड की तेज-तर्रार और बेबाक अभिनेत्री कंगना रनौत ने. कंगना रनौत ने कहा कि जनता ने इसलिए आपको सुपरस्टार्स की कुर्सी पर नहीं बैठाया है कि आप सिर्फ अपनी सहूलियतों के बारे में सोचें. बॉलीवुड की क्वीन कही जाने वाली कंगना का मानना है कि सक्सेसफुल लोग जिनके पीछे-पीछे 25 कैमरे भागते हैं, वह अगर किसी सामाजिक और देश की समस्या पर बात नहीं करेंगे तो उनके सफल होने का मतलब क्या होगा?

बॉलीवुड को आईना दिखाते हुए कंगना ने कहा कि , ‘हमेशा सक्सेसफुल आर्टिस्ट का यह कहना कि हम किसी भी विवादित मुद्दों और देश की समस्या पर बात नहीं करेंगे, बात करेंगे तो प्रॉब्लम में पड़ जाएंगे, हमें बात नहीं करनी चाहिए. अरे! आप सक्सेसफुल लोग बात नहीं करेंगे, जिनके लिए कहीं भी 25 मीडिया कैमरे इकट्ठे आ जाते हैं, तो कौन करेगा?’  कंगना आगे कहती हैं, ‘अगर देश की किसी समस्या पर बात नहीं कर सकते तो आप सक्सेसफुल हैं क्यों? फिर आपके सक्सेस का मतलब क्या है? अपना पैसे कमाया, खाया-पीया, मस्ती की क्या बस यही है सफल होना? आपको सफलता की कुर्सी में सिर्फ इसलिए नहीं बैठाया गया है कि आप अपनी छोटी सी जिंदगी जी कर चलते बनें. आपको जनता ने स्टार इसलिए बनाया है कि आप उनके बारे में भी सोचें और उनकी समस्या पर बात करें.’  कंगना अपनी बात बढ़ाते हुए आगे कहती हैं, ‘किसी को नफरत करना आपका पर्सनल मामला हो सकता है, लेकिन इसके अलावा देश को कैसे एक सूत्र में बांधा जाए? देश की जो आज स्थिति है, उसके बारे में क्या जिम्मेदारी होनी चाहिए. हम हर मामले में बात करनी चाहिए और किसी पर उंगली उठाकर बात नहीं करनी चाहिए.’

बॉलीवुड के अपने साथी कलाकारों की बातचीत और सोच के बारे में कंगना ने बताया, ‘बहुत सारे मेरे साथ काम करने वाले आर्टिस्ट देश की किसी भी मामले में बात नहीं करते हैं. मैंने अपने ही एक साथी ऐक्टर से यह कहते हुए सुना कि हमको तो पानी-बिजली की समस्या नहीं है तो हम इन सब मामलों में क्यों बात करें? उनकी यह बात तकलीफ पहुंचाती है.  आप इस तरह बात नहीं कर सकते हैं. एक व्यक्ति इस तरह की बात भला कैसे कर सकता है?’ कंगना आगे बताती हैं, ‘आप इस देश का हिस्सा हैं, आप इस तरह बिल्कुल भी बात नहीं कर सकते हैं. आपके घर में पानी आए और आपके पड़ोसी के घर न आए तो ठीक, लेकिन आपके चाचाजी के घर पानी न आए तो आपको दर्द होगा. मेरे कहने का मतलब है इस तरह का एटीट्यूट ठीक नहीं है. मुझे सक्सेसफुल लोगों की यह बात बिल्कुल पसंद नहीं है.’ 


 

Share This Post