सोनू निगम को गिरफ़्तार करने की माँग ले कर पहुँचे थे हाईकोर्ट.. आया ये फैसला

पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने जो निर्णय दिया वो निश्चित रूप से एक लकीर और एक नज़ीर साबित होगा .. सोनू निगम सही ठहराए गए अदालत द्वारा ..

आस मोहम्मद ने हाईकोर्ट में याचिका डाल कर कहा था कि सोनू निगम ने अपने ट्वीट से मुस्लिमों की भावनाएं आहत की हैं और इस अपराध के लिए पुलिस को निर्देशित किया जाय कि वो सोनू निगम के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करे ..

इस याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट के न्यायाधीश जस्टिस एम एम बेदी ने याचिका खारिज करते हुए कहा कि अज़ान को इस्लाम का अंग माना जा सकता है पर लाऊडस्पीकर को किसी हालत में नहीं , इसलिए लाऊडस्पीकर पर आपत्ति जताने पर दण्ड देना किसी भी सूरत में स्वाभाविक नहीं है ..

न्यायालय के इस फैसले से ना सिर्फ सोनू निगम बल्कि उनके समर्थन में खड़े लाखों लोगों को अपनी बात सही साबित होने का बल मिला है ..

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW