नहीं रहे मशहूर हास्य लेखक तारक मेहता, 87 साल की उम्र में निधन

मुंबई : तारक मेहता के प्रशंसकों के लिए एक बुरी खबर है। भारत के मशहूर हास्य लेखक और नाटककार तारक मेहता का 87 साल की उम्र में लंबी बीमारी के बाद आज मौत हो गई है। बता दें कि तारक मेहता का जन्म 26 दिसम्बर 1929 को अहमदाबाद में हुआ था।

गुजराती पत्रिका चित्रलेखा के लिए तारक महेता ने अपना कॉलम ‘दुनिया ना उंधा चश्मा’ मार्च 1971 में शुरु किया था, जो लगातार जारी है। इसे इतना पसंद किया गया था कि उन्हीं लेखों पर आधारित सीरियल ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ ने इन दिनों टेलीविजन पर काफी लोकप्रिय हो रहा है। तारक मेहता को पद्मश्री से भी नवाजा जा चुका है।

मेहता गुजराती नाट्य मंडल से भी जुड़े रहे। जैसे ही तारक मेहता की मौत की खबर आई, वैसे ही ट्विटर पर उन्हें लोगों की तरफ से खूब संवेदना मिलने लगी। उनकी मौत से न सिर्फ गुजरात में उनके चाहने वाले दुखी हुए हैं, बल्कि पूरे देश में लोगों को तारक मेहता की मौत का बेहद अफसोस है।

लोगों ने अपनी संवेदना जाहिर कहते हुए यह भी लिखा है कि आप भले ही अब नहीं हैं, लेकिन अपनी रचनाओं से हमेशा हमारे चेहरे पर मुस्कान बिखेरते रहेंगे। ट्विटर पर तारक मेहता के चाहने वाले लगातार अपनी बात कह रहे हैं और संवेदना दे रहे हैं।

Share This Post