अचानक ही ध्वस्त हो गये अभिव्यक्ति की आज़ादी के सभी मापदंड.. नामी फिल्म अदाकारा पर कांग्रेसियों ने दर्ज करवाई FIR जबकि उन्होंने नहीं लगाया था “टुकड़े – टुकड़े” का नारा


अभी कुछ समय पहले की ही बात है जब प्रधानमन्त्री के साथ योगी आदित्यनाथ और मोहन भागवत का खुलेआम अपमान किया जा रहा था.. इतना ही नहीं , आज़ादी के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले महान वीर सावरकर जी को अपमानित किया गया .. खुल कर मंचो से उनके लिए अपशब्द बोले गये थे .. उस से पहले टुकड़े टुकड़े गैंग के जेहादी नारे अभी भी तमाम जेहन में ताजा हैं ..लेकिन इन सबको मात्र एक शब्द से ढंक दिया गया कि ये अभिव्यक्ति की आज़ादी है .

पर अचानक ही आज़ादी के वही ठेकेदार उसी आज़ादी पर वार करने लगे.. भारत माता के खिलाफ अपमानजनक नारों पर उनसे मिल कर उन्हें शाबाशी देने वाले मात्र एक नाम और परिवार पर बिदक जैसे जायेंगे ये हैरान करने वाली बात रही..फिलहाल ताजा समाचार मिलने तक प्रख्यात फिल्म अदाकारा और बॉलीवुड में पाकिस्तान प्रेमियों के खिलाफ एक चट्टान मानी जाने वालीं पायल रोहतगी पर कांग्रेस ने जवाहर लाल नेहरु के अपमान का केस दर्ज करवा दिया है ..

बॉलीवुड अदाकारा पायल रोहतगी ने एक विडियो जारी कर दावा किया था, ‘मुझे लगता है कि कांग्रेस परिवार ट्रिपल तलाक के खिलाफ इसलिए था क्योंकि मोतीलाल नेहरू की पांच पत्नियां थीं। साथ ही मोतीलाल नेहरू जवाहरलाल नेहरू के सौतेले पिता थे।’इतने के बाद कांग्रेस के नेता भडक उठे .. पायल ने अपने दावे के पीछे ऐलिना रामाकृष्णा द्वारा लिखी एक बयॉग्राफी का भी हवाला दिया। इस मुकदमे को दर्ज करवाने के लिए कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस के ही अशोक गहलोत शासित राजस्थान को चुना और राजस्थान पुलिस ने आईटी ऐक्ट की धारा 66 और 67 के तहत पायल के खिलाफ मामला दर्ज किया है।  शुक्रवार को यूथ कांग्रेस के नेता चरमेश शर्मा की शिकायत पर राजस्थान पुलिस ने पायल के खिलाफ केस दर्ज किया।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share