Breaking News:

कभी कलाकार हिन्दुओं के लिए अपनी एक विशेष छबि के लिए जाने जाते थे.. इस बार 900 कलाकारों ने किया है कुछ ऐसा जो एकदम नया है

एकसमय बॉलीवुड की ऐसी छबि बन चुकी थी कि सिने जगत के कलाकार हिन्दू समाज के प्रति दुर्भावना करते हैं, हिन्दू आस्थाओं से खिलवाड़ करते हैं. आज भी समय समय पर नसीरुद्दीन शाह, स्वरा भास्कर, जावेद अख्तर, शबाना आज़मी जैसे तमाम लोग हैं जिनकी नकारात्मक तथा कुंठित सामने आ ही जाती है. आज जबकि पूरा देश चुनावी रंग में रंगा हुआ है, ऐसे भी बॉलीवुड भी खुलकर इस रंग में रंग चुका है. एकतरफ वो लोग हैं जो मोदी सरकार को हराने के लिए वोट की अपील कर रहे हैं तो दूसरी तरफ 900 से ज्यादा कलाकारों ने ऐसा एलान किया है, जो शायद अभी तक कभी नहीं हुआ था.

“हरा संक्रमण” का फिर से आया नाम… यही नाम कभी लिया करते थे बाला साहेब ठाकरे

खबर के मुताबिक़, 900 से ज्यादा कला और साहित्य के कलाकारों ने बीजेपी को वोट देने की अपील की है। इसके लिए उन्होंने एक लेटर जारी कर पीएम नरेंद्र मोदी की उपलब्धियों को बताते हुए उन्हें चुनाव में जिताने की अपील की है. इसमें कुल 907 कलाकारों के नाम लिखे गए हैं जिन्होंने इसपर अपना समर्थन जताया है.  इसमें पंडित जसराज (भारतीय क्लासिक वोकैलिस्ट), उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान (संगीत कलाकार), मालिनी अवस्थी (लोक गायिका), विवेक ओबेरॉय (एक्टर), कोइना मित्रा (एक्टर), अनुराधा पौडवाल (गायिका), हंसराज हँस, शंकर महादेवन, पल्लवी जोशी, जैसे नाम प्रमुख हैं.

“राष्ट्रवाद” पर छिड़ी बहस के बीच आया पीएम मोदी का बयान.. बताया कि क्या है उनके लिए “राष्ट्रवाद” का मतलब

‘कला एवं साहित्य से जुड़े हम सभी देश के सभी नागरिकों से यह हार्दिक आह्वान करते हैं कि वे किसी पूर्वाग्रह एवं दबाव से मुक्त रहते हुए अपनी नयी सरकार को चुनने के लिए मताधिकार का प्रयोग अवश्य करें. हमारी धारणा हैं कि पिछले पांच वर्षों में देश ने एक ऐसी सरकार देखी है जिसने  भ्रष्टाचार मुक्त सु-शासन तथा विकासोन्मुखी प्रशान दिया है. इसी दौरान विश्व में भारत की प्रतिष्ठा बढ़ी है. हमारा यह दृढ़ विश्वास है कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्ववाली वर्तमान सरकार सत्ता में बनी रहे यह समय का तकाजा है. साथ ही जब देश के सम्मुख आतंकवाद जैसी चुनौतियां अभी भी मौजूद हैं तब हमें एक मजबूत सरकार की आवश्यकता है न कि मजबूर सरकार की. ऐसे में इस सरकार का बने रहना और भी आवश्यक बन जाता है.

नक्सली जेएन साईंबाबा की रिहाई के लिए की गई प्रेस कांफ्रेंस में सुदर्शन संवाददाता ने पूंछा सवाल तो मारपीट पर उतारू हो गये वामपंथी

बयान में कहा गया है,‘हमारा दृढ़ विश्वास है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार जारी रहना समय की जरूरत है. हमारे सामने जब आतंकवाद जैसी चुनौतियां हैं, ऐसे में हमें मजबूत सरकार चाहिए, मजबूर सरकार नहीं. इसलिए मौजूदा सरकार चलती रहनी चाहिए.’ संयुक्त वक्तव्य में कहा गया कि पिछले पांच साल में भारत में ऐसी सरकार रही जिसने भ्रष्टाचार मुक्त सुशासन और विकासोन्मुखी प्रशासन दिया. ऐसे में वर्तमान मोदी सरकार की देश को और आवश्यकता है.

सत्य साबित हो रहे सावरकर.. “नामी कांग्रेसी नेता ने कहा- “वहीं बने प्रभु श्रीराम का मंदिर जहां कुछ जिद कर रहे बाबरी की”

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

Share This Post