आखिर क्यों हो रहा बिग बॉस का इतना विरोध..मामला पहुँचा मोदी तक.. उठी मांग- “बैन से कम मंजूर नहीं”

इस फूहड़ता के खिलाफ सुदर्शन न्यूज के प्रधान संपादक श्री सुरेश चव्हाके जी ने तब ही चेतावनी दे दी थी जब इसका शुरू में खूब जोर शोर से प्रचार कर के भारत मे लांच करने की कोशिश हो रही थी.. इसके दूरगामी कुप्रभाव को बहुत पहले ही भांप कर इसके खिलाफ बिंदास बोल व अन्य शो कर के बार बार जनमानस को समझाने का प्रयास किया गया लेकिन कथित बुद्धिजीवी व वामपंथी सोच वालों ने सुदर्शन न्यूज के इस प्रयास को साम्प्रदायिक रूप में कुप्रचार किया जॉजर अंत मे इस को कई घरों में पहुचाने में सफल ही रहे..लेकिन आखिरकार सच सामने आ ही गया है और वो एक एक शब्द सही साबित हो रहे जो सुरेश चव्हाणके जी ने अपने कार्यक्रमो में कही थी..

बिग बॉस 13’ को जनता वल्गर यानी अश्लील बताकर आरोप लगा रही है ! दरअसल अश्लीलता का ये सिलसिला इस सीज़न के पहले ही एपिसोड से शुरू हो गया था. इसके दो बड़े कारण हैं. पहला, घरवालों को दिया गया एक अटपटा टास्क और दूसरा शो का एक खेदजनक कॉन्सेप्ट. इन दोनों बातों के चलते ‘बिग बॉस 13’ को बैन करने की बातें चल पड़ी हैं. इन दोनों की बात हम आगे करेंगे, मगर उससे पहले जानिए मामला उठाया किसने है और क्यों?

एक बिस्तर पर…

अश्लीलता फ़ैलाने वाले BIG BOSS का बहुत ही आपत्तिजनक कॉन्सेप्ट है, बेड फ्रेंड्स फॉरएवर ! यानि  प्रतियोगियों के घर में एंट्री करने से पहले ही ये तय हो चुका था कि कौन सा कंटेस्टेंट किसके साथ बेड शेयर करेगा. मतलब इंसान की अपनी कोई मर्ज़ी नहीं चलेगी !

हाथों का नहीं मुंह का इस्तेमाल…

जो लोग ये शो नहीं देखते उनके लिए बता दें कि, बिग बॉस 13 की विवाद पैदा करने वाली बातों में से पहले नंबर है – घरवालों का मुंह से राशन कलेक्ट करना. दरअसल प्रतियोगियों को घर का राशन इकट्ठा करने का टास्क मिला जिसमें उन्हें राशन अपने हाथ से नहीं जबकि अपने मुंह का इस्तेमाल करना था. यानी एक-दूसरे के मुंह से ट्रांसफर करना था !

लव जिहाद का आरोप

4 अक्टूबर को सोशल मीडिया पर कई लोग जेहाद फैलाता बिग बॉस, हैशटैग को ट्रेंड करा रहे थे ! कई सोशल मीडिया यूजर्स का कहना है कि शो में कश्मीरी मुस्लिम मॉडल और हिंदू लड़की को साथ बेड शेयर करने को कहा गया है ! इसके सहारे शो के द्वारा लव जेहाद को प्रमोट करने की कोशिश की जा रही है !बेड फ्रेंड फॉरएवर’ का कॉन्सेप्ट बेहद बुरा है और टेलीविजन जगत के सभी नैतिक मूल्यों के खिलाफ है !

आपत्ति के बाद प्रतिबन्ध की मांग

बिग बॉस के विरोध में कनफेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) ने केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को एक पत्र लिखा है. CAIT ने प्रकाश जावड़ेकर से कलर्स टीवी पर चल रहे शो बिग बॉस पर तुरंत रोक लगाने की मांग की है ! उनका कहना है,

“हम कलर्स चैनल पर टीवी शो बिग बॉस के टेलीकास्ट होने पर आपका ध्यान आकर्षित करवाना चाहते हैं, जो इस हद तक अश्लीलता दिखा रहा है कि चैनल को एक घरेलू माहौल में देखना मुश्किल हो गया है. हमारे देश के पुराने पारंपरिक और सांस्कृतिक मूल्यों को टीआरपी और पैसे कमाने के लालच में तहस-नहस किया जा रहा है जिसे भारत जैसे देश की विविधता में अनुमति नहीं दी जा सकती.”

 

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW