Breaking News:

अखिलेश यादव के खिलाफ आजमगढ़ से BJP उतार रही एक ऐसा नाम जो राजनीति से ज्यादा कहीं और चर्चित है

ये टक्कर होगी राजनीति के धुरंधर की और ग्लैमर की .. ये टकराव उस जमीन पर होगा जहाँ दोनों का काफी नाम है . एक नाम राजनीती के गलियारों से आया है तो दूसरा नाम आया है फ़िल्मी दुनिया से .. अखिलेश यादव आजमगढ़ से उम्मीदवार है समाजवादी पार्टी के , ये वही सीट है जहाँ से उनके पिता मुलायम सिंह यादव वर्तमान सांसद है . पिछले चुनाव में उन्हें भारतीय जनता पार्टी के रमाकांत यादव से कड़ी टक्कर मिली थी और आख़िरकार जैसे तैसे वो सीट मुलायम सिंह जीतने में सफल रहे थे .

एक इस्लामिक मुल्क जिसने “गे’ को मौत देने का एलान किया, वो भी पत्थर मार कर..

लेकिन इस बार भारतीय जनता पार्टी के इरादे और भी आक्रामक हैं . आजमगढ़ से इस बार मुलायम सिंह यादव के बदले उनके बेटे अखिलेश यादव उतर रहे हैं . अखिलेश यादव को विश्वास है कि वो मुलायम सिंह यादव की ये सीट बरकरार रख पायेंगे और साबित करेंगे कि आजमगढ़ समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष के लिए सुरक्षित सीट है . इतना ही नहीं यहाँ Y + M समीकरण अर्थात यादव और मुस्लिम का मिला जुला वोट अगर अखिलेश यादव को मिलता है तो ये माना जाएगा कि कहीं न कहीं समाजवादी पार्टी अन्य सीटों पर भी इसकी आशा कर सकती होगी .

इधर मायावती ने खुद की तुलना श्रीराम से की तो उधर बोल पड़ा रावण… सीधी चढाई मायावती के साथी अखिलेश पर

लेकिन इस बार अखिलेश यादव को टकराना होगा उस प्रत्याशी से जो भोजपुरी के माध्यम से घर घर में जगह बना चुका है . बीजेपी ने यूपी के आज़मगढ़ से भोजपुरी फ़िल्मों के स्टार दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ को उम्मीदवार बनाया है. निरहुआ भोजपुरी का एक बड़ा नाम है जिसको बच्चा बच्चा उनकी अदाकारी के लिए जानता है . दिनेश लाल यादव उर्फ़ निरहुआ के मैदान में आने के बाद ये मुकाबला  काफी रोचक हो गया है और अखिलेश यादव के समर्थको ने इस कड़े मुकाबले के लिए कमर कसनी शुरू कर दी है .

पार हो रही राजनैतिक असभ्यता की सभी सीमायें .. अब मंच से योगी आदित्यनाथ को बोला गया “गुंडा”

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW