नहीं थम रहा हिंदुत्व पर आघात का आक्रोश… पद्मावत के खिलाफ हर तरफ प्रदर्शन… कुछ हिंसक तो कुछ शांतिपूर्ण

‘पद्मावत’ पर करणी सेना का कहर जारी है. दिल्ली समेत कई शहरों में करणी सेना के कार्यकर्ताओं का आगजनी और उपद्रव जारी है. करणी सेना ने यूपी से लेकर गुजरात तक की सड़कों पर अपना विरोध प्रदर्शन किया. जिसके चलते हरियाणा के सीएम ने सिनेमा घर के मालिकों से फिल्म न दिखने की अपील की. करणी सेना के प्रमुख लोकेंद्र सिंह कलवी ने फिल्म ‘पद्मावत’ पर विरोध जताते हुए कहा कि ‘किसी भी कीमत पर फिल्म को रिलीज नहीं होने देंगे.

और चेतावनी दी कि अगर सिनेमाघर 25 जनवरी को फिल्म को प्रदर्शित किया गया तो वे ‘भीषण आक्रोश’ करेगे.

सीएम खट्टर ने कहा कि अगर एक बार फिर फिल्म रिलीज हो गई, तो लोगों का भीषण आक्रोश होगा और इसके लिए सिनेमाघर जिम्मेदार होंगे. साथ ही कलवी ने अन्य राज्य सरकारों से भी फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की अपील की. और फिल्म पर रोक लगाने के लिए सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दायर को कहा.

आपको बता दे कि अदालत ने निर्देश जारी किया था कि कोई भी राज्य सरकार संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावत’ की रिलीज पर रोड़ा अटकाए . राजस्थान और मध्य प्रदेश की सरकारों ने सिनेमेटोग्राफ एक्ट की सहायता लेते हुए सर्वोच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया है, जिसके तहत राज्य में कानून-व्यवस्था के आधार पर फिल्म की रिलीज रोकी जा सकती है.

बता दे कि सर्वोच्च न्यायालय मंगलवार को मध्य प्रदेश और राजस्थान सरकार की फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की मांग वाली याचिका पर सुनवाई करेगा. दोनों राज्यों के वकीलों ने जल्द सुनवाई का आग्रह किया है. अदालत ने अपने फैसले में राजस्थान, गुजरात और हरियाणा सरकार द्वारा अपने राज्यों में फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की अधिसूचना आदेश पर रोक लगा दी थी.

Share This Post