Breaking News:

हिंदुत्व क्या है ये बता गई “बाहुबली”


नई दिल्ली : आखिर कार ‘बाहुबली 2’ में कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा का जवाब दर्शकों को मिल ही गया। जैसे 2015 में बाहुबली रिलीज हुई थी तो तब से अब तक सोशल मीडिया पर ये सवाल चल रहा था। लेकिन आज फिर से बाहुबली पर सवाल उठाया गया है। और सवाल यह है कि आखिर बाहुबली का धर्म क्या है। 
बता दें कि सोशल मीडिया पर बाहुबली 2 का एक पोस्टर खूब वायरल हो रहा है। इस पोस्टर में एक तरफ मुसलमान के पोसाक में दिखाया है तो दूसरी तरफ हिंदू के पोसाक में दिखाया गया है। इससे सोशल मीडिया पर बताया जा रहा है कि बाहुबली को हिंदुओं की फिल्म घोषित किया जा रहा है। इस फिल्म को लेकर अभी तक तेलगू सिनेमा और बॉलीवुड में जंग छिड़ी थी और अब उनकी फिल्म हिंदू धर्म और सभ्यता का प्रतीक बना दी गई है। 
सूत्रों के अनुसार, बाहुबली के फैन शाहरूख-सलमान-आमिर पर जमकर निशाना साध रहे है। उनका कहना है कि हिंदू धर्म का मजाक बनाए बिना भी फिेल्में बन सकती है। वहीं, अक्षय कुमार को भी निशाने पर लेते हुए कहा कि हर बार भगवान के साथ चलकर भी अच्छी फिल्में बनाई जा सकती है। सोशल मीडिया पर बताया जा रहा है कि बाहुबली भव्य तरीके से हिंदू धर्म को सम्मान करते हुए अच्छे से प्रचार करती है। 
गौरतलब है कि माहिष्मती की दोनों महिला किरदार शिवगामी और देवसेना को हिंदू औरतों का श्रवेश्रठ को दिखाती है फिर फिल्म में शिव का शिवलिंग स्थापित कर उसका जलाभिषेक करना, माहिष्मती में हाथी के भगवान की पूजा होना और देवसेना के राज्य में कृष्ण की पूजा होना, इन सभी के आधार पर ऐसी बातें कही जा रही है। बताया जा रहा है कि बाहुबली के लिए एसएस राजामौली को नेशनल अवॉर्ड दिया गया है। 
इस आधार पर ये चर्चा भी हो रही है कि बाहुबली, भाजपा और हिंदूओं की फिल्म है, इसमें हिंदू धर्म को बेखूबी से तरासा है, और इसकी मान्यता को बढ़ाया है। बाकि फिल्मों की तरह नहीं है जैसे आमिर और अक्षय ने लोगों के सामने भगवान को और हिंदू धर्म को अधंविश्वास को जताते हुए लोग के सामने दिखाया था। बाहुबली को शानदार कमाई के पिछे दिल से बनाई गई फिल्म को धर्म के नाम पर खींचने पर लोगों ने बहुत पंसद किया है।           
 

सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...