बलात्कार का केस वापस नहीं लिया तो 4 हैवानों ने तेजाब डाल दिया पीड़िता पर.. हैवानों का नाम सामने आते ही खामोश हो गए नारी सम्मान के तमाम पैरोकार


उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर से एक बेहद ही खौफनाक मामला सामने आया है जहाँ 4 हैवानों ने बलात्कार पीडिता पर इसलिए एसिड उड़ेल दिया क्योंकि हैवान पीड़िता पर बलात्कार का केस वापस लेने का दवाब बना रहे थे लेकिन पीडिता ने ऐसा करने से इंकार कर दिया था. लेकिन आश्चर्य देखिए कि जैसे ही मुजफ्फरनगर के हैवानों के नाम सामने आए तो वो सभी लोग मौन साध गए जो खुद को नारी सम्मान का सबसे बड़ा ठेकेदार बताते हैं.

जानकारी के मुताबिक़, तेज़ाब हमले में पीड़िता 30% से ज्यादा जल गई है तथा मेरठ के एक अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है. शाहपुर के सर्कल इंस्पेक्टर गिरिजा शंकर त्रिपाठी ने कहा- बुधवार रात को चार आरोपी आरिफ, शाहनवाज, शरीफ और आबिद जबर्दस्ती पीड़ित के घर में घुस गए. सभी ने 30 साल की पीड़ित से जिला अदालत में उनके खिलाफ चल रहा दुष्कर्म का केस वापस लेने का दबाव बनाया. जब पीड़ित ने इनकार कर दिया, तो चारों ने उस पर तेजाब फेंक दिया और घटनास्थल से भाग गए. सभी आरोपी कसेरवा गांव के रहने वाले हैं.

पुलिस ने बताया है कि महिला पर तेजाब से हमला करने में शामिल चारों व्यक्तियों की पहचान कसेरवा गांव के निवासी आरिफ, शाहनवाज, शरीफ और आबिद के रूप में की गयी है. उन्होंने बताया कि फिलहाल चारों आरोपी फरार हैं. लेकिन पुलिस टीम दबिश दे रही हैं सभी आरोपियों को जल्दी ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा तथा सुसंगत धाराओं में कार्यवाई की जाएगी.

सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share