नई
दिल्ली : वर्ष 2008 में हुए आतंकी 
हमले के मास्टर और जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफिज सईद को पाकिस्तान ने
आतंकवादी करार कर दिया है। आपको बता दें कि इससे पहले भी पाकिस्तान सरकार हाफिज
सईद को नजरबंद कर चुकी है। अब पाकिस्तान के ग्रह मंत्रालय ने भी साफ कर दिया है कि
हाफिज सईद आतंकी गतिविधियों से जुडा़ हुआ है।

दरअसल, जमात-उद-दावा
ने अदालत में याचिका दी थी कि हाफिज सईद को कई महीनों से अवैध तरीके से हिरासत में
रखा जा रहा है। इस पर पाकिस्तान सरकार ने कोर्ट में कहा कि हाफिज सईद के खिलाफ अशांति
फैलाने के पर्याप्त सबूत हैं और उस पर आतंकवादी निरोधक कानून के तहत कार्रवाई की
गयी है।

वहीं, हाफिज सईद को नवाज सरकार ने 30 जनवरी से नजरबंद किया हुआ है। इसके बाद पाकिस्तान सरकार ने
हाफिज सईद का नाम आतंकवाद रोधी अधिनियम की चौथी अनुसूची पर डाल दिया गया।

आपको ये
भी बता दें कि पाकिस्तान का ये कदम पडोसी भारत, अमेरिका और संयुक्त राष्ट के दबाव के बाद उठाया गया था।

हाफिज सईद के उपर मुंबई के आतंकी
हमले 26/11 में भी शमिल होने का आरोप है
जिसमे अमेरिकी नागरिक समेत लगभग 166 लोग मारे गए थे। भारत तभी से
लगातार पाकिस्तान पर हाफिज सईद को उसे सौपने का दबाव बना रहा है। अमेरिका ने हाफिज
सईद को कश्मीरियों के बीच अलगाववादी गतिविधियों में उकसाने की वजह से दुनिया में
आतंकवाद के लिए जिम्मेदार लोगों की सूची में शमिल किया गया है।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share