Breaking News:

आखिर सच सामने आ ही गया… पाकिस्तानी अधिकारी ने ही स्वीकार किया कि अपहरण किया गया था जाधव का

आईएसआई के ऑफिसर ने पाकिस्तान को करारा झटका देते हुए धोखा दे दिया है। पाक इंटेलीजेंस एजेंसी आईएसआई ऑफिसर अमजद शोएब  ने पाक के सभी दावों को फेल करते हुए ये पोल खोल दी है की भारतीय नेवी के रिटायर्ड ऑफिसर  जाधव को ईरान से पकड़ा गया था।  जबकि पाक अब तक जाधव को कभी आतंकी तो कभी रॉ का एजेंट बताता आ रहा था अब उनकी के देश के अफसर ने सारा सच बया कर दिया है। 
पाक का ये रूप सामने आने के बाद देखते है पाक इस बात का जिक्र इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ़ जस्टिस में करता है या नहीं कि जो दावा शोएब ने किया है वो उसपर क्या 
प्रतिक्रिया देता है। आईसीजे ने 18 मई को जाधव की फांसी की सजा पर रोक लगा दी है। पाक ने जाधव पर जासूसी का आरोप लगाते  हुए मौत की सजा सुनाई और 
उन्हें पाकिस्तान की जेल में 1 साल से भी ज्यादा समय हो गया है। 
पाकिस्तान ने जाधव पर आरोप लगते हुए ये दावा किया उन्हें बलूचिस्तान से 3 मार्च को उस वक़्त पकड़ा गया जब वो ईरान के रास्ते  देश में दाखिल हुए। लेकिन भारत ने पाकिस्तान के इस बेबुनियादी दावे को इस सिरे से खारिज करते हुए कहा कि जाधव नेवी  से रिटायर्ड होने के बाद ईरान में अपना बिज़नेस करने गए हुए थे। 
वही कहा जा रहा है कि इस मसले को लेकर पाक प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ पर इस केस को गुमराह करने के आरोप लगाए जा रहे है हुए साथ ही उन्हें विपक्ष और मिडिया का गुस्सा झेलना भी पड़  रहा है।  इसीलिए पाकिस्तान ने आईसीजे से अपील की है कि जाधव के मामले की सुनवाई जल्द से जल्द की जाये। वैसे कोर्ट 6 महीने बाद 
इस पर सुनवाई करेगा। 
Share This Post