गोडसे का बढ़ा समर्थन. एक अन्य भाजपा विधायक ने कहा – “नाथूराम नहीं थे आतंकी”


अगर सोशल मीडिया पर देखा जाय तो नाथूराम गोडसे के समर्थन में कई लोगों की पोस्ट की बाढ़ जैसी आई है.. इस से पहले गांधी जयंती के दिन भी ट्विटर पर गोडसे अमर रहें ट्रेंड कर गया था.. इस बीच गोडसे मामले को ले कर सबके केंद्र में साध्वी प्रज्ञा जी हैं जिन्होंने चुनावों के पहले और अब चुनावों के बाद एक नई बहस को जन्म दे दिया है.. फिलहाल नाथूराम गोडसे और गांधी के मामले में सोशल मीडिया में चल रहे मंथन के बाद अब एक नया बयान सामने आया है .

साध्वी प्रज्ञा का परोक्ष समर्थन करते हुए भारतीय जनता पार्टी के एक अन्य विधायक ने उन तमाम लोगों को आड़े हाथो लिया है जो नाथूराम गोडसे को आतंकी कह रहे हैं . फिलहाल आतंकी कहने वालों के सबसे आगे राहुल गाँधी हैं जिनकी पार्टी के दिग्विजय सिंह ओसामा बिन लादेन तक को जी लगा कर सम्बोधित करते आये हैं.. इसी पार्टी में वो तमाम चेहरे हैं जो भगवा को खुल कर आतंक से जोड़ कर बयानबाजी किये थे अब वही गोडसे को आतंकी बताने पर तुले हुए हैं..

इसी क्रम में देश में पकड़े गये कई आतंकियों की पैरवी करने वाला ओवैसी भी शामिल है जो सुप्रीम कोर्ट के अयोध्या मामले पर आये फैसले के खिलाफ हंगामा किये हुए था.. फिलहाल इन सभी को आड़े हाथो लेते हुए भारतीय जनता पार्टी के बलिया से विधायक व् अपने बेबाक बयानों के लिए चर्चित सुरेन्द्र सिंह ने कहा है की नाथूराम गोडसे द्वारा गांधी को मारना ज्यादा से ज्यादा एक भूल भर कही जा सकती है लेकिन नाथूराम गोडसे को आतंकी कहना किसी भी हाल में उचित नहीं है..

पूरे देश में चल रहे गांधी गोडसे मामले में विधायक सुरेन्द्र सिंह का नया बयान अब एक नई बहस को चालू करवा सकता है. सोशल मीडिया पर इस प्रकार से ये मामला छाया हुआ है उसके आगे महाराष्ट्र में नई सरकार का शपथ ग्रहण भी फीका दिखाई दे रहा है . फिलहाल बलिया जिले के बैरिया क्षेत्र से विधायक सिंह ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान दावा किया कि गोडसे आतंकवादी नहीं थे। उन्होंने कहा कि राष्ट्र विरोधी हरकतों में शामिल होने वाला आतंकवादी होता है। गोडसे आतंकवादी नहीं थे। ‘गोडसे से भूल हुई थी ..


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share