शिक्षा और शिक्षक का धर्म नहीं पूछते बताने वाले अब हुए खामोश. बिहार के खगौल में मोहम्मद दानिश ने ये क्या किया ?


एक बार फिर से विश्वास का गला घोंटा गया है बिहार में.. अभी कुछ समय से बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय में मुस्लिम शिक्षक द्वारा कर्मकांड विषय पढाये जाने का विरोध व्यापक स्तर पर हो रहा था, उस समय तमाम तर्क आदि दिए जा रहे थे कि शिक्षा का कोई मत या मजहब नहीं होता . शायद बिहार के खगौल में उस धर्मनिरपेक्ष परिवार को ये बात सही भी लगी थी क्योकि उन्होंने अपनी मात्र 15 वर्षीया नाबालिग बेटी को पढाने के लिए शिक्षक के रूप में मोहम्मद दानिश को नियुक्त कर लिया था.

लेकिन मोहम्मद दानिश शिक्षक से जायदा एक लव जिहादी के रूप में जाना जाएगा जिसने मात्र 15 साल की बच्ची को कोर्स की किताबें पढाने के बजाय न जाने क्या क्या पढ़ा डाला और बाद में उसी बच्ची को बहला फुसला कर ले कर भाग गया. हैरानी की बात ये रही कि मोहम्मद दानिश के इस कृत्य की खबर उस बच्ची के परिवार में किसी को कानो कान नहीं हुई और जब तक उन्हें आभास होता तब तक देर हो चुकी थी और उनकी सामाजिक प्रतिष्ठा मिट्टी में मिल चुकी थी ..

मामला दो माह पुराना है। दानिश ने कहा कि उसने लडकी को दो महीने तक अपने साथ रखा और उसे कोलकाता घुमाता रहा। पुलिस सोमवार को दोनों को लेकर पटना पहुंची है जिसके बाद उन्हें दानापुर कोर्ट  में पेशी के लिए भेज दिया गया है। लगभग दो महीने पहले दानापुर खगौल से मोहम्मद दानिश नाम का गणित शिक्षक अपनी ही १५ वर्षीय छात्रा जो कि दूसरे धर्म की बताई जाती है उसे लेकर फरार हो गया था और उसका धर्मांतरण कराने की भी फिराक में था।

इस घटना को लेकर लड़की के पिता ने किसी अनहोनी की आशंका को लेकर खगौल थाना में शिक्षक मोहम्मद दानिश और उसके परिवार वालों के खिलाफ १७ तारीख को बेटी के अपहरण का मामला दर्ज कराया था और इस घटना के बाद से दानिश के परिवार के सभी सदस्य घर छोडकर चले गए थे और घर में ताला लटका हुआ था।

१५ वर्षीय नाबालिग छात्रा को मोहम्मद दानिश द्वारा ले कर भागे हुए दो महीना १३ दिन के बाद आखिरकार खगौल पुलिस ने दानिश और उसके परिवार के सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का कहना है कि उसकी गिरफ्तारी दानापुर इलाके से ही हुई है। इस केस के आरोपी फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले को जांच का विषय बता रही है कि युवती के साथ क्या हुआ और क्या नहीं ?


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share