Breaking News:

मुस्लिमों के कहने पर बीजेपी को रोकने के लिए शिवसेना के साथ सरकार बनाई है कांग्रेस ने- अशोक चव्हाण


महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री तथा राज्य की वर्तमान उद्धव ठाकरे सरकार में कांग्रेस कोटे से मंत्री अशोक चव्हाण ने शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने के पीछे जो तर्क दिया है उस पर राजनैतिक घमासान शुरू हो गया है. अशोक चव्हाण ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी ने शिवसेना के साथ मिलकर सरकार इसलिए बनाई ताकि बीजेपी को रोका जा सके और उनकी पार्टी ने मुस्लिमों के कहने पर ऐसा किया है. अशोक चव्हाण के इस बयान पर बीजेपी ने तीखी प्रतिक्रया दी है.

महाराष्ट्र के कांग्रेस नेता और कैबिनेट मंत्री अशोक चव्हाण का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है. वीडियो में अशोक चव्हाण कहते हुए नजर आ रहे हैं कि कांग्रेस शिवसेना की सरकार में इसलिए शामिल हुई क्योंकि मुस्लिम समुदाय ने ज़ोर दिया कि अगर वो सरकार में शामिल नहीं होते हैं तो बीजेपी सत्ता में आ जाएगी. अशोक चव्हाण का ये वीडियो नांदेड़ में नागरिकता कानून के खिलाफ एक रैली का बताया जा रहा है.

वायरल वीडियो में अशोक चव्हाण कह रहे हैं कि हमने मुसलमान भाइयों के कहने पर महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ सरकार बनाई है. मुस्लिमों का कहना था कि बीजेपी हमारी सबसे बड़ी दुश्मन है. इसलिए बीजेपी को सत्ता से रोकने के लिए शिवसेना के साथ सरकार बनानी चाहिए. राज्य हमारा है. सरकार महाराष्ट्र में अपनी बनी है. बीजेपी को महाराष्ट्र में सत्ता से रोकने के लिए हम इस सरकार में शामिल हुए हैं. इसी लिए हमनें मुस्लिम भाइयों के कहने पर महाराष्ट्र में सरकार बनाई है और जब तक महाराष्ट्र में हमारी सरकार है तब तक हम यहां सीएए को लागू नहीं होने देंगे.

अशोक चव्हाण के इस बयान पर बीजेपी ने उद्धव ठाकरे से सवाल करते हुए कहा है कि क्या यही बाला साहेब का हिंदुत्व है. जिसकी बात शिवसेना करती थी. आखिर उद्धव ठाकरे सरकार बनाने के बाद इतने मजबूर क्यों हैं. साथ ही बीजेपी ने कहा है कि महाराष्ट्र कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने स्वीकार किया है कि उनकी पार्टी ने शिवसेना के साथ सरकार बनाने से पहले मुसलमानों से इजाजत ली. अब समय आ गया है कि कांग्रेस अपना नाम बदलकर इंडियन कांग्रेस मुस्लिम लीग रख ले. बीजेपी ने पूंछा है कि कांग्रेस ने गठबंधन करने से पहले इमरान खान से भी इजाजत ली थी ?


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share