महाराष्ट्र में गिरी देवेन्द्र फडणवीस सरकार.. पहले अजित पवार अब फडणवीस ने दिया इस्तीफा


आखिरकार महाराष्ट्र के सियासी क्लाइमेक्स का अंत हो गया है. आज महाराष्ट्र मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राज्य की सियासी परिस्थितियां तेजी से बदलती हुईं दिखाई दी तथा सभी पार्टियों के बीच मीटिंग का दौर शुरू हो गया. इसी बीच कुछ ऐसा हुआ, जिसकी आशंका जताई जा रही थी. एनसीपी नेता अजित पवार ने डिप्टी सीएम पद से इस्तीफा दे दिया. अजित पवार के इस्तीफे के साथ ही ये तय हो गया कि अब देवेन्द्र फडणवीस सरकार नहीं चलेगी.

अजित पवार के इस्तीफे से पहले ही बीजेपी की तरफ से ये कहा गया था कि साढ़े 3 बजे मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस इस्तीफा देंगे. इसके बाद मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने तय समय प्रेस कांफ्रेंस की तथा मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ़ा का एलान कर दिया. प्रेस कांफ्रेंस में मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने कहा कि जनता ने सबसे ज्यादा सीटें हमें दी थीं तथा बीजेपी शिवसेना गठबंधन को बहुमत दिया था. हमने कभी ढाई ढाई  साल सीएम की बात नहीं की लेकिन शिवसेना इस पर अड़ गई तथा हमें धमकी देने लगी तथा सौदेबाजी शुरू कर दी.

देवेन्द्र फडणवीस ने कहा कि हमने शिवसेना का काफी इन्तजार किया लेकिन उन्होंने हमारे बजाय एनसीपी तथा कांग्रेस के साथ बातचीत शुरू कर दी. उन्होंने कहा कि इसके बाद हमारी भी एनसीपी के अजित पवार से हुई तो उन्होंने स्थिर सरकार देने का राजीनामा दिया, इसके बाद हमने उनके साथ सरकार बनाई. उन्होंने कहा कि लेकिन अब स्थिति बदल गई तो वह राज्यपाल को इस्तीफा देने जा रहे हैं. हमारे पास बहुमत नहीं है तो अब हम विपक्ष में बैठेंगे तथा अपनी भूमिका निभायेंगे.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share