नए-नए धर्मनिरपेक्ष बने नेपाल ने झेला गंभीर घाव.. कभी हिंदू राष्ट्र रहे देश में मूर्ति विसर्जन में गिरी एक लाश


भारत का पड़ोसी देश नेपाल.. वो नेपाल जो कभी हिन्दू राष्ट्र हुआ करता था तथा नया नया ही सेक्यूलर राष्ट्र बना है. सेक्यूलर बनने के बाद नेपाल में भी वही सब होना शुरू हो गया है जो नेपाल के पड़ोसी सेक्यूलर राष्ट्र भारत में होता है. जिस तरह से सेक्यूलर भारत में अक्सर हिन्दुओं के मूर्ति विसर्जन कार्यक्रम मजहबी उन्मादियों के कहर की भेंट चढ़ जाते हैं, वैसा ही नेपाल में भी हुआ है. खबर के मुताबिक़, नेपाल के सीमाई कस्बा कृष्णनगर के झंडेनगर में लक्ष्मी मूर्ति विसर्जन शोभायात्रा में उन्मादियों ने हंगामा कर दिया, जिसके कारण हिंसा भड़क गई है. इस बवाल में एक हिन्दू युवक की मौत हो गई.

नेपाल में जिस जगह मूर्ति विसर्जन के दौरान हिंसा हुई है, वो इलाका भारतीय सीमा से सटा हुआ है. फायरिंग, पत्थरबाजी तथा आगजनी में कई लोग घायल हुए हैं तथा जान-माल को भी नुकसान हुआ है. स्थिति को नियंत्रण में लेने के लिए कृष्णानगर में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू लगा दिया गया है. इसके साथ ही कपिलवस्तु जिले सहित नेपाल के कई जिलों की फोर्स भी तैनात कर दी गई है. वहीं बवाल को देखते हुए भारतीय प्रशासन ने नोमेंस लैंड सीमा से सटी दुकानों और शिक्षण संस्थानों को पूरी तरह से बंद कराने के निर्देश दिए हैं.

डीआईजी सुरेश विक्रम शाह ने बताया कि बुधवार को जिस रूट से विसर्जन के लिए लक्ष्मी प्रतिमाएं जा रही थीं. उस पर दूसरे(मुस्लिम) समुदाय के लोग विरोध कर रहे थे. उनका कहना था कि रास्ते पर मदरसा है, इसलिए इस रूट से मूर्ति विसर्ज शोभायात्रा नहीं निकलने दी जायेगी. वहीं हिन्दू पक्ष के लोगों का कहना था कि जिस रूट से मूर्ति ले जाई जा रही थी, वह रास्ता खराब था. ऐसे में दूसरे रास्ते से लोग मूर्ति ले जा रहे थे, जिसका मुस्लिम समुदाय के लोगों ने विरोध किया तथा हिंसा की. इस दौरान गोली लगने से सूरज पाण्डेय नामक युवक की  जान चली गई.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share