दलित बच्ची को मजहबी उन्मादियों ने छेड़ा तो उबल पड़े हिन्दू संगठन.. उस बेटी के सम्मान में कहीं नही दिखी भीम या मीम आर्मी

जब उस दलित बच्ची के साथ मजहबी उन्मादियों ने छेड़खानी की तथा विरोध करने पर उसके परिजनों को पीटा तो न तो वहां भीम आर्मी दिखाई और न मीम आर्मी दिखाई दी.. न वो कथित दलित हितैषी नेता दिखाई दिए जो जय भीम-जय मीम के नारे की आड़ में हिन्दू समाज में जातिगत जहर खोलने की कोशिश करते हैं बल्कि वहां पर दलितों के स्वाभिमान को बचाने के लिए उन हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ता पहुंचे, जिनके खिलाफ भीम आर्मी जैसे कथित दलित हितैषी संगठन अभियान चलाते हैं.

उबर का का ड्राइवर था इरफान.. लड़की की राइड में दिखाने लगा अपना वहशी रूप

मामला उत्तर प्रदेश के जौनपुर के शाहगंज कोतवाली क्षेत्र के सबरहद गांव का है. बताया गया है कि भरौली गाँव के   कुछ उन्मादी लोगों का सबरहद गांव में आना जाना है. ये दलित बस्ती की लडकियों पर पर रास्ते से गुजरने पर आपत्तिजनक टिप्पणियां करते हैं तथा छेड़खानी करते हैं. जानकारी के मुताबिक, रविवार को भी उन्मादियों ने दलित बच्ची के साथ छेड़खानी की तो राजेन्द्र पुत्र मुन्नीलाल ने इसका विरोध किया. इस पर उन्मादी भड़क गये तथा घर पर आ कर देख लेने की धमकी दी.

दरिंदगी की दास्ताँ लिख गया छत्तीसगढ़ का सलीम.. चाकू दिखा कर करता रहा विधवा से बलात्कार

इसके बाद उसी रात बाइक पर सवार होकर आए दर्जनभर से ज्यादा युवकों ने लाठी डंडे और हॉकी से परिवार के सभी लोगों को पीटना शुरू कर दिया. उन्मादियों ने महिलाओं को भी नहीं बख्शा. सभी को बुरी तरह चोटें आई हैं. उन्मादियों ने मकान में भी जमकर तोड़फोड़ की तथा घर का सामान वगैरा निकालकर बाहर फेंक दिया. शोर-शराबा सुनकर हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ता तथा अन्य ग्रामीण पहुँच गये तथा 2 उन्मादियों को पकड़ लिया, जबकि अन्य बाइक छोड़कर भाग निकले.

बच्चे ने पहली बार कदम रखा था मदरसे में तभी उस पर नजर पड़ी मौलवी इकबाल की.. बच्चे में दिखी उसे हवस और फिर …

इसी दौरान पुलिस को सूचना दी गई. सूचना पर पहुंचे क्षेत्राधिकारी अजय कुमार श्रीवास्तव, कोतवाल जयप्रकाश सिंह समेत सर्किल के खेतासराय थाने की फोर्स ने मामले को शांत कराया तथा घायलों का उपचार के लिए राजकीय पुरुष चिकित्सालय में कराया गया. पीड़ित परिवार के घर पर सुरक्षा की दृष्टि से फोर्स तैनात की गई है. वहीं हिन्दू संगठनों ने चेतावनी दी  है कि  अगर आगे से किसी भी उन्मादी ने गाँव की बच्चियों की तरफ बुरी नजर से भी देखा तो इसका अंजाम बुरा होगा.

राजस्थान की शान महाराणा प्रताप अब नहीं कहे जाएंगे महान.. कांग्रेस राज में फिर से अकबर का होगा गुणगान..

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

Share This Post