हैवानियत की सारी हदें पार गया नजीरुद्दीन.. पहले जीजा की ह्त्या की, फिर बहन और भांजी को घायल कर किया रेप और मार डाला


उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ से हैवानियत का एक ऐसा दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है, जिसके बारे में अभी तक आपने न तो सुना होगा और न ही देखा होगा. नजीरुद्दीन हवस की भूख में इतना ज्यादा अंधा हो गया कि उसने दरिंदगी की सारी सीमाएं लांघ दी. नजीरुद्दीन ने पहले अपने जीजा की ह्त्या की फिर अपनी ममेरी बहन व भांजी को घायल कर खून से लथपथ अवस्था में उनके साथ रेप किया. हिला और उसकी बेटी खून से लथपथ तड़प रही थी और उसी का अपना फुफेरा उनके साथ दुष्कर्म कर रहा था.

हैवान नजीरुद्दीन यहीं तक नहीं रुका बल्कि उसने इस हैवानियत की वीडियो भी बनाया और अपनी सगी भाभी को दिखा दिया. जब भाभी ने फटकार लगाई तो मोबाइल को नदी में फेंक दिया. अब पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस के अनुसार घटना मुबारकपुर थाना क्षेत्र की है. यहां पर एक युवक अपनी पत्नी, 10 साल की बेटी, 4 माह की बेटी और 4 साल के बेटे के साथ रहता था.  24 नवंबर की रात युवक, उसकी पत्नी की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी, जबकि 10 वर्षीय पुत्री व 4 वर्षीय पुत्र को घायल हालत में मिले थे.

जब पुलिस मौके पर पहुंची तो महिला की लाश नग्न अवस्था में मिली थी. मौके पर घर का सामान भी बिखरा पड़ा था. कुछ अन्य साक्ष्यों को देखते हुए पुलिस को समझ आ गया कि यह मामला लूट का नहीं है और फिर दुष्कर्म व हत्या का मान जांच शुरू की गई. इस दौरान फॉरेंसिक टीम और डॉग स्‍क्वैड की भी मदद ली गई लेकिन आरोपी पुलिस की पकड़ से बाहर रहा. जब घायल बेटी से पुलिस ने फोटो दिखाकर पहचान करवाने की कोशिश की तो उसने अर्धचेतन अवस्‍था में इशारे से पुलिस को समझाने का प्रयास किया. इसके बाद पुलिस ने तमाम पहलुओं पर जांच शुरू की.

इस दौरान पुलिस को पता लगा कि गांव का एक युवक कई दिन से घर से बाहर नहीं निकल रहा और रात में मृतकों के कब्र पर जाता है. यहीं नहीं घटना वाले दिन वह मौके पर मौजूद था लेकिन जब पुलिस का खोजी कुत्ता पहुंचा तो वह भाग गया. इसके बाद पुलिस की शक की सुईं उस युवक की तरफ घूमी और युवक का नंबर पता कर सर्विलांस पर लगा दिया. इस बीच मृतक की पुत्री जब ठीक हुई तो नजीरूद्दीन का नाम लिया. इसके बाद पुलिस ने आरोपी को उसके घर से ही गिरफ्तार कर लिया.

जानकारी के मुताबिक़, नजीरुद्दीन ने पूरी वारदात का एक वीडियो भी बनाया. उसने वीडियो यह बताने के लिए बनाया कि जब वह घर से बाहर निकला तो पति को छोड़ कर घर के सभी लोग जिंदा थे. आरोपी युवक करीब तीन घंटे तक पीड़ितों के घर पर रहा. घर से बाहर निकल कर उसने महिला के कपड़े दूर फेंक दिए. फिर घर पहुंच कर वीडियो को अपनी भाभी को दिखाया. इसकी जानकारी मिलने पर उसके भाई ने उसे मोबाइल तोड़कर फेंकने को कहा तो उसने उसे तमसा नदी में फेंक दिया.
आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने महिला के कपड़े तो बरामद कर लिए लेकिन मोबाइल की तलाश गोताखोर कर रहे हैं. मामले में आजमगढ़ एसपी प्रोफेसर त्रिवेणी सिंह ने बताया कि डेटा एनालिटिक्स और स्निफर डॉग की सहायता से हम इस जघन्य रेप और तिहरे हत्याकांड का खुलासा कर सके. उन्होंने कहा कि ये मेरी आज तक की नौकरी की सबसे मुश्किल चुनौती थी. उन्होंने कहा कि ऐसी घटना उन्होंने अपनी    life में आज तक न तो सुनी है और न ही देखी है.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share