2 साल तक युवती से दुष्कर्म करता रहा सिपाही शाहरुख.. खाकी हुई कलंकित


जनता की सेवा तथा सुरक्षा के लिए समर्पित होने का दवा करने वाली यूपी पुलिस के दामन पर दाग लगा है. ये दाग किसी और ने नहीं बल्कि यूपी पुलिस के ही सिपाही ने ही लगाया है. खबर के मुताबिक़, मुजफ्फरनगर जिले के रहने वाले एक सिपाही शाहरुख़ ने शादी का झांसा देकर युवती से 2 साल तक दुष्कर्म किया और दहेज के लिए शादी भी तोड़ दी. पीड़ित युवती की तहरीर पर मुजफ्फरनगर में सिपाही के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया, लेकिन कोई एक्शन नहीं लिया. अब मुजफ्फरनगर से मुरादाबाद पहुंची पीड़ित युवती ने आई रेंज के कार्यालय पहुंचकर इंसाफ की गुहार लगाई है.

एकतरफ यूपी पुलिस जनता की सेवा तथा सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए जी-जान से जुटी हुई है तो वहीं दूसरी ओर शाहरुख जैसे कुछ सिपाही भी मौजूद हैं जो वर्दी के तमाम सराहनीय कार्यों को अपने कुकर्मों से कलंकित कर रहे हैं. मुरादाबाद पहुंचकर आईजी से न्याय की मांग कर रही पीड़ित युवती का कहना है कि ‘पुलिस ने एफआईआर तो दर्ज कर ली. लेकिन सिपाही के खिलाफ अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई’. आईजी रेंज रमित शर्मा ने कहा है कि युवती की शिकायत पर मामले की जांच कराई जा रही है, उचित कार्रवाई की जाएगी.

अपने परिजनों के साथ थाने पहुंची पीड़ित युवती ने आरोप लगाया कि मुरादाबाद में तैनात सिपाही शाहरूख ने उसके साथ पहले रिश्ता तय किया. इसी बहाने उसने बहला-फुसलाकर उसके साथ 2 साल तक शारिरिक शोषण किया. जब अगस्त में उसके साथ शादी तय हुई तो उसने दहेज में इनोवा क्रिस्टा और 10 लाख रुपये की मांग रख दी. जब उसके परिजनों ने इतनी बड़ी मांग पूरी करने से मना किया तो शाहरुख ने शादी करने से साफ इनकार कर दिया.

पीड़ित युवती ने बताया कि उसने मुजफ्फरनगर के थाने में बलात्कार के आरोप में आरोपी सिपाही शाहरुख के खिलाफ मामला दर्ज करा दिया है. पीड़िता का आरोप है कि एफआईआर के बाद भी पुलिस ने आरोपी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है. यही कारण है कि वह मुरादाबाद के पुलिस के आला अधिकारियों के पास इंसाफ मांगने आई है. उसे उम्मीद है कि इंसाफ ज़रूर मिलेगा. इस मामले में आईजी रमित शर्मा ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है तथा युवती को न्याय मिलेगा. उन्होंने कहा कि अगर पुलिस की लापरवाही सामने आयेगी तो दोषियों पर भी कार्यवाई की जायेगी.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share