समाजवादी पार्टी, आप पार्टी और कांग्रेस का लगातार पुलिस का खुला विरोध दिखाया रक्त रंजित असर. दिल्ली के दंगाइयो से लड़ता हुआ बलिदान हुआ दिल्ली पुलिस हेडकांस्टेबल रतनलाल - Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar -

Breaking News:

समाजवादी पार्टी, आप पार्टी और कांग्रेस का लगातार पुलिस का खुला विरोध दिखाया रक्त रंजित असर. दिल्ली के दंगाइयो से लड़ता हुआ बलिदान हुआ दिल्ली पुलिस हेडकांस्टेबल रतनलाल


पिछले कुछ समय से भारत की राजनीति की निम्नतम पराकाष्ठा ऐसी भी आई थी कि सीधे सीधे सवाल कर लिया गया था कि आख़िरकार दंगाई ही क्यों मारे गये ? पुलिस के जवानो में किसी को कोई नुकसान क्यों नहीं हुआ.. उन तमाम बातों का जवाब आख़िरकार उस तथाकथित सेक्युलर विपक्ष को तब मिल ही गया जब उन्मादियो से दिल्ली की जनता को बचाते हुए वीरगति को प्राप्त हो गया एक हेडकांस्टेबल.

पाकिस्तान तक से हुए युद्ध में सेना के शौर्य का सबूत मांगने वाली राजनीति में आखिरकार अमरता को प्राप्त ही हो गया है दिल्ली पुलिस का एक हेडकांस्टेबल. दंगाइयो के आगे समर्पण की मुद्रा ने ऐसे हालात पैदा कर दिए कि पत्थरों को झेलते हुए जनता को बचाने कि दोहरी चुनौती के आगे दिल्ली पुलिस के जवान की बलि चढ़ गई. इस वीरगति के बाद आम जनमानस बेहद आक्रोशित है और दंगाईयो के खिलाफ अधिकतम कड़ी कार्यवाही मांग रहा है.

मिल रही जानकारी के अनुसार बलिदानी हेडकांस्टेबल रतन लाल एसीपी गोकुलपुर कार्यालय में तैनात थे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मौजपुर इलाके में हालात बेहद तनावपूर्ण हो गए हैं।  मौजपुर इलाके में हंगामा सुबह 11 बजे से शुरू हुआ था। दोपहर 2 बजे तक यह हंगामा, हिंसा में तब्दील हो गया। गौर करने योग्य ये है कि पहले ही दिन आप पार्टी ने दिल्ली हिंसा   में पुलिस का विरोध किया था.

 

 


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share