Breaking News:

कोरोना वायरस में सावधानी ही बचाव है. जानिए इसके लक्षण और बचाव के तरीके?


चीन में 350 से अधिक लोगों की जान लेने वाले और हजारों लोगों को संक्रमित करने वाले कोरोना वायरस का जनक चमगादड़ों से होने की आशंका है। कोरोना वायरस सबसे पहले दिसम्बर में चीन के हुबेई प्रांत में फैला जिसके बाद से इससे 361 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि इसके पुष्ट मामलों की संख्या 17205 तक पहुंच गई है। चीन के बाहर यह 25 देशों में फैल चुका है और फिलिपींस में रविवार को एक व्यक्ति की कोरोना वायरस से मौत हो गई। कोरोना वायरस चीन से निकलकर दुनिया के अन्य देश में भी अपना असर दिखा रहा है। चीन के वुहान में पैदा हुए कोरोना वायरस की सिंगापुर, नेपाल, जापान, फ्रांस आदि जैसों देशों में मौजूदगी का पता चला है। पुरे विश्व में जैसे कोरोना वायरस आम हो गया हैं। नोवेल कोरोना वायरस अकेले कोरोना वायरस नहीं है। यह कई वायरस का समूह है। कोरोना वायरस से जुडी अधिक जानकारी के लिए जांच अभी भी जारी है।

कोरोना वायरस का कहर –

ये वायरस बहुत तेज़ी से अपने पैर फैलता है जिसकी वजह से न्यूमोनिया होने का भी भ्रम हैं और यही वजह है की शुरुवात में चीन कोरोना वायरस को न्यूमोनिया समझते रहे। कई अलग-अलग प्रजातियों के जानवरों में भी कोरोना वायरस सामान्य है।

कोरोना वायरस होने पर मरीज़ में इस तरह के लक्षण दिखाई देते हैं –

सांस लेने में दिक्कत, पीड़ित होने पर गले में दर्द होना, जुखाम के साथ खांसी का आना, बुखार को न्यूमोनिया बन किडनी पर असर करता है। कोराना वायरस को लेकर मंगलवार जिला उपयुक्त आरएस वर्मा ने जिलावासियों से अपील की है कि खांसी अथवा बुखार से पीड़ित मरीजों से दूरी बनाए रखें। नेशनल हेल्थ मिशन के डायरेक्टर प्रभजोत सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से बताया कि कोरोना वायरस को लेकर आमजन को डरने की जगह जागरूकता की आवश्यकता है।

वायरस को ऐसे फैलने से रोकेे-

– मरीज की सही तरीके से गाइड लाइन के अनुसार देखभाल करें
– सांस लेने संबंधी किसी को समस्या हो तो उससे दूर रहें
– वायरस प्रभावित देशों व क्षेत्रों की यात्रा से बचें
– हाथों व शरीर की सफाई का खासा ध्यान रखें
– खांसते व छींकते समय मुंह व नाक को ढक कर रखें
– हाथ व उंगली से आंख, नाक व मुंह को बार-बार न छूएं
– हाथ मिलाने, एक-दूसरे को छूने से बचें

बता दे कोरोना वायरस की जाँच से पता चला है की केवेट बिल्लियों से मनुष्योँ और ऊंटों से मनुष्योँ में फ़ैलता है। रिसर्च से पता चला है की अभी भी कोरोना वायरस कुछ जानवरो में घूम रहे हैं।
भारत में भी बचाव के रास्ते अपनाए जा रहे हैं। अभिनेता अरशद वारसी ने कोरोना वायरस को लेकर एक मीम शेयर किया लेकिन इस मीम की वजह से उन्हें सोशल मीडिया पर ट्रोलिंग का सामना करना पड़ा है।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share