दुर्दांत आतंकी व हत्यारा ओसामा बिन लादेन कुछ लोगों का ही नहीं पूरे एक देश का हीरो है.. इसे खुद कबूला वहां के पूर्व राष्ट्रपति ने


दुर्दांत इस्लामिक आतंकी ओसामा बिन लादेन, जिसने जिहाद के नाम पर दुनिया भर में कत्लेआम मचाया वो लादेन कुछ लोगों के समूह का ही नहीं बल्कि पूरे एक देश का हीरो है. इस बात को खुद एक देश के पूर्व राष्ट्रपति ने कबूला है तथा ये देश कोई और नहीं बल्कि आतंकी मुल्क पाकिस्तान है. पाकिस्‍तान के पूर्व राष्‍ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने स्‍वीकार किया है कि ओसामा बिन लादेन और जलालुद्दीन हक्‍कानी जैसे आतंकी ‘पाकिस्‍तानी हीरो’ हैं. साथ ही उन्‍होंने माना कि पाकिस्‍तान कश्‍मीरी युवाओं को आतंकी प्रशिक्षण देकर भारतीय सेना के खिलाफ लड़ने के लिए जम्‍मू-कश्‍मीर भेजता रहा है.

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति मुशर्रफ के कबूलनामे का एक वीडियो वायरल हो रहा है. इस वीडियो को पाकिस्‍तानी नेता फरहतुल्‍ला बाबर ने सोशल मीडिया पर शेयर किया है. हालांकि, यह पता नहीं चल पा रहा है कि मुशर्रफ ने ये इंटरव्‍यू कब दिया था. वीडियो में मुशर्रफ कह रहे हैं कि पाकिस्‍तान आने वाले कश्‍मीरियों का हीरो की तरह स्‍वागत किया जाता है. हम उन्‍हें प्रशिक्षण देते रहे हैं. हम उनका हर तरह से पूरा समर्थन करते हैं. हम उन्‍हें मुजाहिदीन मानते हैं, जो भारतीय सेना के खिलाफ लड़ेंगे. इसी दौरान लश्‍कर-ए-तैयबा भी खड़ा हुआ.

पाकिस्तानी पूर्व राष्ट्रपति वीडियो में कहते नजर आ रहे हैं कि आतंकवादी हमारे हीरो हैं. मुशर्रफ ने बताया कि हमने 1979 में पाकिस्‍तान को फायदा पहुंचाने के लिए अफगानिस्‍तान में धार्मिक उग्रवाद शुरू कराया. इस कदम से हमने सोवियत संघ को अफगानिस्‍तान से बाहर करने की कोशिश भी की थी. मुशर्रफ ने बताया कि पाकिस्‍तान ने दुनियाभर के मुजाहिदीनों को इकट्ठा कर प्रशिक्षण दिया और उन्‍हें हथियार उपलब्‍ध कराए.

मुशर्रफ ने कहा है कि हमने तालिबान को प्रशिक्षण दिया और अफगानिस्‍तान पहुंचाया. ये सब हमारे हीरो थे. हक्‍कानी और ओसामा बिन लादेन हमारे हीरो थे. अयमान अल-जवाहिरी भी पाकिस्‍तानी हीरो थे. इसके बाद वैश्‍विक माहौल बदलने लगा. दुनिया ने हर चीज को अलग नजरिये से देखना शुरू कर दिया. हमारे सभी हीरो दुनिया के सामने खलनायक की तरह पेश किए जाने लगे.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share