कभी लव जिहाद ने तोड़ लिया था दुनिया में सबसे दृढ संकल्पित माने जाने वाले इजरायल के सैनिक तक को .. वो निकल पड़ा था अपने ही देश को तबाह करने


ये वही संक्रमण और वही जहर है जो फैलाया गया है भारत में .. धर्म को त्याग कर अधर्म की राह पर ले जाने के लिए कार्य कर रही एक पूरी टीम जिसमे निशाने पर सिर्फ लड़कियां ही नहीं बल्कि लड़के भी हैं . लेकिन क्या आप सोचते हैं कि ये संक्रमन सिर्फ भारत भर में है .. इस से न सिर्फ यूरोप जूझ रहा बल्कि इजरायल तक इसका शिकार हो चुका है . इसीलिए कई हिंदूवादी नेताओं ने लव जिहाद को विश्वव्यापी समस्या बताया है .. ऐसा ही कुछ हो चुका है संसार के सबसे दृढ लोगों में गिने जाने वाले इजरायल वालों के साथ और वो भी तब जब उनके जाल में फंस गया था एक इजरायली फौजी तक.

उसने पहले एक मुस्लिम लड़की से प्यार किया, फिर उसी से शादी की, फिर उसने इस्लाम कबूल कर लिया.. फिर निकल पड़ा था ISIS की तरफ से लड़ने, इंसानियत के खिलाफ एक जंग…पर पकड़ा गया क्योंकि उस पर पल – पल नज़र रखे थी इजरायल की पुलिस. इजरायल की सुरक्षा एजेंसी ISA और इजरायल पुलिस ने एक साझा अभियान चलाते हुए वालेंटिन व्लादमीर मोज़ोल्वेस्की नाम के अपने ही एक पूर्व सैनिक को गिरफ़्तार किया जो तुर्की के रास्ते सीरिया जा कर ISIS के पक्ष में लड़ना चाहता था. 40 वर्षीय वालेंटिन व्लादमीर मोज़ोल्वेस्की ने वर्ष 2000 में एक मुस्लिम लड़की से शादी करने के बाद इस्लाम कबूल कर लिया था जो शिबली की रहने वाली थी.

इजरायली समाचार एजेंसी के अनुसार कुछ समय बाद वह इजरायली सैनिक, ISIS का समर्थक बन गया था और तुर्की जाने का टिकट भी खरीद चुका था जिस से वो सीमा पार कर के सीरिया जा कर इस्लामिक स्टेटके पक्ष में लड़ सके. बताया जा रहा है की उसकी बीबी उसको पूरी तरह से ये समझाने में कामयाब हो चुकी थी की अमेरिका और रूस के खिलाफ लड़ना एक जिहाद है .. इसको निशाने पर लेने की वजह ये भी थी क्योकि एक इजरायली फौजी होने के नाते उसको लगभग हर हथियार चलाने और बारूद बनाने आदि आता था जो नए आतंकियों के बहुत काम आता.

इजरायल की सुरक्षा एजेंसी ISA और इजरायल पुलिस ने एक साझा अभियान चलाते हुए वालेंटिन व्लादमीर मोज़ोल्वेस्की नाम के अपने ही एक पूर्व सैनिक को गिरफ़्तार किया जो तुर्की के रास्ते सीरिया जा कर ISIS के पक्ष में लड़ना चाहता था. 40 वर्षीय वालेंटिन व्लादमीर मोज़ोल्वेस्की ने वर्ष 2000 में एक मुस्लिम लड़की से शादी करने के बाद इस्लाम कबूल कर लिया था जो शिबली की रहने वाली थी. इजरायली समाचार एजेंसी के अनुसार कुछ समय बाद वह इजरायली सैनिक, ISIS का समर्थक बन गया था और तुर्की जाने का टिकट भी खरीद चुका था जिस से वो सीमा पार कर के सीरिया जा कर इस्लामिक स्टेटके पक्ष में लड़ सके.

उस समय जानकारी सामने आई थी कि उसकी बीबी उसको पूरी तरह से ये समझाने में कामयाब हो चुकी थी की अमेरिका और रूस के खिलाफ लड़ना एक जिहाद है .. इसको निशाने पर लेने की वजह ये भी थी क्योकि एक इजरायली फौजी होने के नाते उसको लगभग हर हथियार चलाने और बारूद बनाने आदि आता था जो नए आतंकियों के बहुत काम आता. लेकिन इससे पहले कि वह अपने मकसद में कामयाब हो पाता, वह गिरफ्तार कर लिया गया. ये खबर इस बात का सबूत है कि लव जिहाद कोई छोटी समस्या नहीं है बल्कि ये वो संक्रमण है जो धीरे धीरे फैलता है फिर एक दिन सब तबाह कर देता है.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share