फिर आतंक का काल बना इजराइल… अब नजर घूमी एक और बस्ती पर जहाँ कभी जबरन कब्जा किया था मुसलामानों ने


मजहबी चरमपंथ के खिलाफ बेहद ही आक्रामक रुख के कारण इस्लामिक जगत की आँखों में चुभने वाले इजराइल एक और एलान के बाद न इस्लामिक जगत से लेकर यूएन तक खलबली मच गई है. इजराइली पीएम की नजर अब उस तरफ घूम गई है जिससे फिलिस्तीन अपना जुड़ाव मानता है. इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा है कि अगर वो चुनाव जीतते हैं तो क़ब्ज़े वाले वेस्ट बैंक में बसाई गई यहूदी बस्तियों को इजराइल में शामिल कर देंगे. बता दें कि इजराइल में मंगलवार को चुनाव होंगे और नेतन्याहू का मुक़ाबला उन दक्षिणपंथी पार्टियों से है जो वेस्ट बैंक को इजराइल की संप्रभुता के दायरे में लाने का समर्थन करती हैं.

“तबाह होने के कगार पर है पाकिस्तान”.. ये दावा किसी भारतीय का नहीं बल्कि खुद पाकिस्तानी मंत्री का है

ज्ञात हो कि अंतरराष्ट्रीय क़ानून के मुताबिक़ वेस्ट बैंक में इजराइल की ओर से की गई बसावट अवैध है मगर इजराइल ऐसा नहीं मानता. इजराइल ने वेस्ट बैंक और ईस्ट यरूशलम में 100 से अधिक यहूदी बस्तियां बसाई हैं. कुछ हफ़्तों पहले अमरीका ने गोलान हाइट्स पर इजराइली संप्रभुता को मान्यता दी थी. अमेरिकी सरकार के इस कदम के बाद इस्लामिक मुल्क भड़क उठे थे. गोलान हाइट्स को इसराइल ने सीरिया से अपने कब्ज़े में लिया था.

सीमा के सैनिको जैसे ही हालात में ड्यूटी देते हैं UP के चंदौली जिले में चकरघट्टा थाने के पुलिसकर्मी.. साबुन भी लेना है तो 30 किलोमीटर दूर जाइये

गौरतलब है कि इजराइल ने वेस्ट बैंक में चार लाख यहूदियों को बसाया है जबकि दो लाख यहूदी पूर्वी यरूशलम में रह रहे हैं. वेस्ट बैंक में लगभग 25 लाख फ़लस्तीनी रहते हैं. इजराइल और फ़लस्तीनियों के बीच वेस्ट बैंक में बनाई गई यहूदी बस्तियों को लेकर विवाद बना रहता है. इजराइल का कहना है कि फ़लस्तीनी इन रिहाइशों के मामले को शांति वार्ता को टालने के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं. इजराइल का कहना है कि वार्ता और शांति प्रक्रिया की राह में इन बस्तियों के कारण कोई अड़चन पैदा नहीं होती.

निकाह का शौक़ीन हो गया था दानिश… 8 निकाह कर के नौंवी जगह पहुंच गया था वो, लेकिन तब तक भर चुका था पाप का घड़ा

इजराइली टीवी पर एक इंटरव्यू के दौरान बिन्यामिन नेतन्याहू से पूछा गया कि आप वेस्ट बैंक में मौजूद यहूदी बस्तियों को इजराइल की संप्रभुता के दायरे में क्यों नहीं लाये. जवाब में नेतन्याहू ने कहा, “अगर आप पूछ रहे हैं कि हम अगले चरण की ओर बढ़ रहे हैं या नहीं तो जवाब है- हां. हम अगले चरण की ओर बढ़ेंगे.” मैं इसराइल की संप्रभुता का विस्तार करने वाला हूं और इसके लिए साथ लगी बस्तियों या कहीं अलग बनी रिहाइशों में फ़र्क नहीं करूंगा.

कांग्रेस की सभा में बुरी तरह से लात घूंसे.. बाद में पता चला कि वो झगड़ा देश या धर्म के मुद्दे पर नहीं था, बल्कि..


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...