Breaking News:

पुण्यतिथि विशेष: हिन्दू कुल भूषण “महाराणा प्रताप महान” ने भी “हिंदुओं” को सतर्क किया था आज के जहर #LoveJihad से. जानिए क्या बोले थे महाराणा ?


“मैं आप सबसे कहना चाहता हूँ कि कुछ भी करना लेकिन मुगलों पर भरोसा मत करना. ये मुग़ल वो लोग हैं जो पहले हमसे मित्रता का हाथ बढाते हैं फिर उसके बाद हमारे घर की स्त्रियों पर बुरी नजर रखते हैं, अतः आप सबको अगर अपनी इज्जत, अपना स्वाभिमान, अपनी मर्यादा प्यारी है तो मुगलों से मित्रता को लेकर सतर्क रहें”

ये शब्द उस महानतम व्यक्तित्व के हैं, उस प्रतापी महाबली हिन्दू योद्धा वीर महाराणा प्रताप सिंह के हैं जो अपने धर्म की रक्षा की खातिर, अपनी सनातनी सभ्यता की खातिर, अपने स्वाभिमान की खातिर जंगल-2 भटकते रहे, जिन्होंने घास की रोटियां खाईं लेकिन कभी मुगलों की दासता स्वीकार नहीं की, कभी मुगलों के आगे झुके नहीं. आज देश में हिन्दू समाज के विरूद्ध साजिशन जो सबसे बड़ा अभियान चलाया जा रहा है वो है लव जिहाद. लव जिहाद एक अंतर्गत एक साजिश के तहत मुस्लिम समुदाय के लडके हिन्दू लडकियों को प्रेमजाल में फंसाते हैं तथा उसके बाद उन्हें प्रताड़ित करते हैं.

लव जिहाद के कई ऐसे मामले सामने आ चुके हैं जिसमें हिन्दू लडकियों को फंसाया गया था उसके बाद उनकी जिंदगी को नरक बना दिया गया. हिन्दुओं के लिए आज का सबसे बड़ा जहर लव जिहाद के खिलाफ वीर महाराणा प्रताप ने पहले ही हिन्दुओं को सतर्क कर दिया था कि मुगलों से मित्रता करते समय सतर्क रहना क्योंकि इनकी नजर तुम्हारे घर की स्त्रियों पर रहती है. अगर हिन्दू समाज ने वीर वीर महाराणा प्रताप की इस बात को माना होता तो शायद आज हिंदू समाज इस लव जिहाद नमक बीमारी से मुक्त होता, तथा शर्मिंदगी न उठानी पडती.

हिन्दू कुल भूषण, वीरता, शौर्य, पराक्रम, स्वाभिमान की अमर प्रतिमूर्ति महाराणा प्रताप को निश्चित रूप से आज भारत वर्ष का बच्चा-बच्चा जानता है. वही महाराणा प्रताप जिनसे कुछ इतिहासकारों का महान अकबर भी थरथर कांपा करता था. अकबर को कई बार ऐसा डर सताता था कि कहीं उसके राज्य में अचानक से ही महाराणा प्रताप ना आ जाए क्योंकि अगर वह एक बार आया तो सब तबाह कर जाएगा. आज वीर महाराणा प्रताप महान की पुण्यतिथि पर सुदर्शन संकल्प लेता है कि धर्मरक्षा के लिए महाराणा प्रताप ने जो मशाल प्रज्वलित की थी, पूरे मनोयोग से सुदर्शन उसे जलाए रखेगा तथा धर्म्रक्षार्थ विधर्मियों से संघर्ष करता रहेगा.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share