Breaking News:

श्रीराम मंदिर अभियान पूरा होने के बाद अब विश्व हिंदू परिषद ने किया अपने अगले लक्ष्य का एलान


अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि पर भगवान राम के भव्य मंदिर निर्माण का रास्ता साफ़ होने के बाद हिंदुस्तान ही नहीं बल्कि दुनिया के सबसे प्रखर हिंदू संगठन विश्व हिन्दू परिषद् ने अपने लक्ष्य का एलान कर दिया. श्रीराम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ़ होने के बाद अव VHP घर वापसी अभियान में जुटेगी. विहिप के अंतरराष्ट्रीय उपाध्यक्ष चंपत राय के मुताबिक विहिप की स्थापना का मूल उद्देश्य ही परावर्तन (घर वापसी) था तथा राम मंदिर अभियान की सफलता के बाद अब विहिप इसी पर फोकस करेगा.

जानकारी के मुताबिक़, विहिप ने अयोध्या विवाद में मिली जीत के बहाने व्यापक अभियान चलाने की तैयारी भी की है. इसके तहत राम मंदिर के निर्माण के पहले दिन कार सेवा कराने की योजना पर व्यापक विचार विमर्श हो रहा है. विहिप के अंतरराष्ट्रीय उपाध्यक्ष चंपत राय ने कहा कि राम मंदिर आंदोलन विहिप के लिए एक पड़ाव था, उसकी मंजिल हिंदुत्व को उसका पुराना गौरव वापस दिलाना है. संस्था की स्थापना का मूल उद्देश्य घर वापसी था. अब जबकि राम मंदिर की लड़ाई विहिप ने जीत ली है तब यह संस्था नए सिरे और पूरी ताकत से देश भर में घर वापसी अभियान शुरू करेगी.

चंपत राय ने कहा कि विहिप का दूसरे मत या धर्म को मानने या सनातन धर्म के अतिरिक्त अन्य पूजा पद्घति का विरोध नहीं है. जो हिंदू नहीं हैं, वो अपनी इच्छा और मत के अनुसार धार्मिक रास्ता अपनाए रख सकते हैं. हमारा इतना कहना है कि ऐसे लोगों भी हिंदुत्व संस्कृति-सभ्यता का सम्मान करना होगा. यह मानना होगा कि राम उनके भी पूर्वज थे, क्योंकि पांच से छह सौ साल पहले यहां कोई अन्य धर्म प्रभाव में था ही नहीं.

जानकारी के मुताबिक़, अयोध्या मामले में सफलता के बाद राम मंदिर निर्माण के बहाने विहिप की योजना व्यापक देशव्यापी संपर्क अभियान चलाने की है. नए मंदिर के शिलान्यास के दिन कार सेवा कराने पर भी संगठन में जबर्दस्त मंथन हो रहा है।. विहिप सूत्रों के मुताबिक योजना कम से कम उन पौने तीन लाख गांवों तक पहुंचने की है, जिन गांवों ने मंदिर अभियान के दौरान शिलापूजन अभियान में उपस्थति दर्ज कराई थी। इस दौरान 6.70 करोड़ लोगों से प्रति व्यक्ति सवा रुपये के चंदे से 8.25 करोड़ रुपये जुटाए गए थे.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share