Breaking News:

लव मैरिज होने के बाद भी उस लड़की के घरवाले अड़े रहे अपनी जिद पर.. तब किसी ने नहीं दी प्यार सबसे ऊपर जैसी दुहाई


इस घटना पर उन सभी लोगों ने मौन साध लिया है जो इश्क को सबसे ऊपर रखने की बात करते हैं. उस मुस्लिम लड़की को प्रमोद नाम के लड़के से प्यार हो गया तथा दोनों ने शादी कर ली. शादी के बाद युवती प्रमोद के साथ रहने लगी. जानकारी मिलने पर युवती के परिजन भड़क उठे तथा उन्होंने वो किया जिसके खिलाफ देश के तमाम तथाकथित बुद्धिजीवी तथा प्यार के ठेकेदार बड़े बड़े लेख लिख डालते हैं. लेकिन अफ़सोस इस घटना के बाद उन्होंने चुप्पी साध ली.

हिन्दू लड़के प्रमोद के साथ लव मैरिज करने के कारण युवती के परिजन उसके खिलाफ हो गये. उन्होंने युवती को बहाने से घर लाकर मुस्लिम लड़के से जबरन निकाह करा दिया जो उसको उसे अपने साथ ले गया. वह प्रमोद के साथ भागे नहीं, इसलिए उसे बंधक बनाकर रखने लगा. किसी तरह इस बात का पता प्रमोद को लग गया. प्रमोद ने युवती के परिजनों तथा उसके शौहर के खिलाफ पुलिस से शिकायत कर दी. पुलिस युवती को देखने शौहर के पास गई, जहां भंडा फूट गया. पुलिस की सुरक्षा देख युवती प्रमोद के पास लौट गई.

जानकारी के मुताबिक़, युवती बिहार की रहने वाली है. उसका पड़ोस में रहने वाले एक युवक प्रमोद से प्रेम-प्रसंग चल रहा था. दोनों प्रेमी-प्रेमिका शादी भी कर चुके थे. वे साथ रहने लगे. हालांकि, घरवालों को बाद में पता चला. करीब 6 महीने बाद युवती के परिजन उक्त युवक के घर पहुंचे. जहां एक दिन रुकने के बहाने बेटी को अपने घर पर ले आए. परिजन युवती को लेकर बाद में मेरठ पहुंचे, जहां लिसाड़ी गेट निवासी नाजिम से उसका जबरन निकाह करा दिया. वहां युवती को बंधक बनाकर रखा गया.

एक दिन मौका पाकर युवती ने प्रमोद को अपनी आपबीती बताई जिसके बाद प्रेमी ने पुलिस से शिकायत कर दी. इस मामले में डीजीपी कार्यालय से मेरठ पुलिस को आदेश दिए गए. मेरठ पुलिस ने युवती को उसके दूसरे शौहर नाजिम के बंधन से मुक्त कराया, जहां युवती ने पुलिस के सामने ही नाजिम को तलाक दे दिया. उसके बाद युवती पहले पति प्रमोद के पास चली गई.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share