एक अकेला शहर मध्य भारत का जहां 5 हजार से ज्यादा बांग्लादेशी घुसपैठिये कर रहे हैं विदेश यात्रा भी… जानिये कौन सी है वो जगह जहां हो रहा ये सब ?

असम में NRC ड्राफ्ट जारी होने के बाद बांग्लादेशी घुसपैठियों तथा इन बांग्लादेशी घुसपैठियों की मदद करने वाले देश के गद्दार लोगों में खलबली मची हुई है तथा उन्हें आशंका है कि असम के बाद अगला निशाना वह भी हो सकती हैं. इसी बीच खुफिया विभाग के सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है कि झारखण्ड के जमशेदपुर शहर में 5 हजार बांग्लादेशी घुसपैठिये रह रहे हैं तथा वब उन्हें विदेश भेजा जा रहा है. खबर के मुताबिक, जमशेदपुर और इसके आसपास के इलाकों में करीब पांच हजार बांग्लादेशी घुसपैठिये गत कुछ वर्षो से डेरा जमाए हैं. कुछ स्थानीय नेताओं और अधिकारियों की मिलीभगत से यहां इनका आधार कार्ड और वोटरकार्ड भी बन रहा है.  खुफिया विभाग ने अलर्ट जारी करते हुए राज्य सरकार को विशेष निगरानी कराने की बात कही है.

खुफिया विभाग के अनुसार, जमशेदपुर से लोगों को खाड़ी देशों में भेजने और उन्हें वीजा दिलाने के काम में 21 एजेंट सक्रिय हैं. ये एजेंट बांग्लादेशी घुसपैठियों को भी विदेश भेज रहे हैं. ज्यादातर घुसपैठियों ने आधार कार्ड व वोटरकार्ड भी बनवा लिया है.  यह स्थानीय नेताओं और भ्रष्ट सरकारी पदाधिकारियों की मदद से संभव हुआ है. घुसपैठिये इसकी मदद से राज्य व केंद्र प्रायोजित सरकारी सेवाओं का लाभ भी उठा रहे हैं. असम में NRC जारी होने के बाद झारखंड सरकार ने जब से एनआरसी (नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजंस)की बात कही है, इन घुसपैठियों में खलबली मच गई है. जितनी खलबली घुसपैठियों में है उससे कहीं ज्यादा उन गद्दारों में है जो इन घुसपैठियों के मददगार हैं. ये लोग घुसपैठियों को विदेश भी भेज रहे हैं.

जानकारी के मुताबिक़, झारखण्ड के जमशेदपुर शहर के अलावा बांग्लादेशी घुसपैठिये कपाली, टेल्को, हल्दीपोखर, मकदमपुर, घाटशिला, कदमा आदि इलाकों में काफी संख्या में रह रहे हैं. इनके पास आधार कार्ड, वोटर कार्ड, राशन कार्ड के अलावा बिजली, पानी और टेलीफोन का कनेक्शन मौजूद है. खुफिया विभाग की मानें तो बांग्लादेशी घुसपैठियों के आधार कार्ड व वोटर कार्ड बड़े पैमाने पर धनबाद के अलावा पश्चिम बंगाल के खड़गपुर, बांकुड़ा व मुर्शिदाबाद में बनाए गए हैं. खुफिया एजेंसियों ने राज्य सरकार को इन क्षेत्रों की विशेष निगरानी करने को कहा है तथा सतर्क किया है.

Share This Post