25 लाख से ज्यादा मुसलमान जमा हो रहे जिस स्थान पर वहां के मुख्यमंत्री का आदेश है कि खूब सेवा हो उनकी - Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar -

Breaking News:

25 लाख से ज्यादा मुसलमान जमा हो रहे जिस स्थान पर वहां के मुख्यमंत्री का आदेश है कि खूब सेवा हो उनकी


थोड़े बहुत नहीं बल्कि वहां 25 लाख से ज्यादा मुस्लिम लोग जमा हो रहे हैं. 25 लाख से ज्यादा की ये मुस्लिम भीड़ वहां 3 दिन तक रहेगी. इसके लिए उस राज्य के मुख्यमंत्री ने आदेश जारी कर दिए हैं कि इनकी सेवा सत्कार में कोई कमी नहीं छोडी जाए. इसके बाद निश्चित रूप से हर कोई ये जरूर जानना चाहेगा कि आखिर ऐसा क्या हुआ है जिसके कारण इतनी बड़ी संख्या में मुस्लिम समाज के लोग एक स्थान पर होंगे? सवाल ये भी होगा कि वो कौन सी जगह है जहाँ मुस्लिमों का जमघट लगेगा.

तो आपको बता दें कि 25 से ज्यादा की संख्या में ये मुस्लिम मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में इज्तिमा के लिए इकठ्ठा हो रहे हैं. लाखों की जुटने वाली भीड़ को देखते हुए तैयारियां अभी से शुरू हो गई हैं. सफर में लोगों को कोई तकलीफ न हो इसके लिए रेलवे से ट्रेनों में अतिरिक्त कोच लगाने की अपील की गई है. इस संबंध में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बुधवार को अधिकारियों के साथ बैठक कर इंतजामों पर चर्चा किया. भोपाल में ये इज्तिमा 23 नवंबर से 25 नवंबर तक चलेगा.

मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ ने इज्तिमा के लिए अधिकारियों के साथ बैठक की तथा कहा कि तब्लीगी इज्तिमा के मौके पर बेहतर इंतजाम हों. कोशिश करें कि इसमें आने वाले लोग शासन के व्यवस्था से न सिर्फ संतुष्ट रहें बल्कि तारीफ भी करें. उन्होंने कहा कि इज्तिमा में पूरे देश और विदेशों से भी लोग शामिल होने आएंगे. इस दौरान साफ-सफाई की बेहतर से बेहतर व्यवस्थाएं हों.मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सभी बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करवाने के साथ ही इसकी मॉनिटरिंग व्यवस्था को भी चुस्त-दुरूस्त रखने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश यह हो कि इस वर्ष का इज्तिमा व्यवस्थाओं और साफ-सफाई के मामले में मिसाल बने.

कमलनाथ सरकार में अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री आरिफ अकील ने इज्तिमा में शामिल होने वाले लोगों के लिए रेलवे द्वारा बेहतर व्यवस्था रखने और अतिरिक्त बोगियांं लगाने को कहा है. बैठक में कलेक्टर भोपाल तरुण पिथौड़े ने बताया कि लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, नगर निगम, लोक निर्माण, ग्राम पंचायत, पुलिस, परिवहन, स्वास्थ्य, विद्युत मंडल, भारत संचार निगम, सड़क विकास प्राधिकरण और रेलवे विभाग द्वारा इज्तिमा में आने वाले लोगों को दी जाने वाली सुविधाओं की तैयारियां कर ली गई हैं.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share