Breaking News:

कांग्रेस के कद्दावर नेता अहमद पटेल पर लगा अब तक का सबसे सनसनीखेज आरोप.. शियाओं के बड़े नाम कल्बे जव्वाद ने मचाई सनसनी

कांग्रेस पार्टी के कदावर नेता तथा गांधी परिवार के सबसे करीबी माने जाने अहमद पटेल पर एक ऐसा सनसनीखेज आरोप लगा है, जिसके बाद देश की सियासत में खलबली मच गई है. अहमद पटेल पर ये आरोप मोदी या बीजेपी की तरफ से नहीं लगा है बल्कि शिया मुस्लिमों के सबसे बड़े नाम कल्बे जव्वाद ने लगाया है है. शीर्ष शिया नेता कल्बे जव्वाद ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल पर गंभीर आरोप लगाते हुए दावा किया है कि कर्बला जोर बाग में जमीन पर कब्जा रोकने वाले कार्यकर्ताओं को जान से मारने की धमकी दी है.

पड़ोसी का मतलब क्या है, इसको खुलकर बतायेंगे महेश भट्ट ? किस पड़ोसी का नाम लिया उन्होंने ट्विटर पर और किसने दिया जवाब?

देश की राजधानी दिल्ली के दिल्ली के जोर बाग इलाके में 2.5 एकड़ जमीन पर कब्जे की कोशिशों को रोकने की कवायद में लगे एक शिया कार्यकर्ता की सोमवार दिन दहाड़े हुई हत्या के बाद शिया नेता मौलाना कल्बे जव्वाद ने केंद्र सरकार से भू-माफियों से शिया संस्था की सुरक्षा की मांग की है. मौलाना जव्वाद ने दावा किया है कि इस क्षेत्र में भू-माफियाओं को कांग्रेस नेता अहमद पटेल का संरक्षण प्राप्त है। मौलाना जव्वाद ने शिया संस्था के सदस्यों को पुलिस सुरक्षा देने की अपील की है. उन्होंने कहा है कि अहमद पटेल के लोग उनके कार्यकर्ताओं को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं.

शिया मौलाना कल्बे जव्वाद ने कहा है कि हाल ही में उन्होंने वक्फ की जमीन को बचाने के लिए एक बड़ी कॉन्फ्रेंस की थी, जिसके बाद शब्बीर जैदी की हत्या कर दी गई थी. मौलाना जव्वाद ने बताया कि कर्बला की जमीन को बचाने की मुहिम में जैदी की अहम भूमिका थी. वह अहमद पटेल के संरक्षण में काम कर रहे भू-माफियाओं से वक्फ की जमीन बचाने में लगे हुए थे. जव्वाद ने दावा किया कि जैदी की हत्या के बाद अंजुम-ए-हैदरी ट्रस्ट के सेक्रेटरी जनरल बहादुर अब्बास नकवी, मैनेजर जहारुल हसन और अहमद पटेल के खिलाफ मामले में वरिष्ठ वकील महमूद प्राचा की जान को खतरा है. गौरतलब है कि अंजुम-ए-हैदरी ट्रस्ट करबला की जमीन की देखरेख के लिए जिम्मेदार है.

पीएम मोदी की जिस कविता को सुन उठ खड़ी हुई थी देश की जनता, उस कविता को आवाज दी स्वर सम्राज्ञी लता मंगेशकर ने.. सामने आया वीडियो

जव्वाद ने पटेल पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह अपने मुस्लिम नाम का फायदा कांग्रेस पार्टी से उठा रहे हैं और उसकी आड़ में शिया समुदाय पर दबाव बनाते हुए निजी लाभ लेने की कवायद में लगे हैं. अंजुम-ए-हैदरी ट्रस्ट की तरफ से पटेल के खिलाफ कई मामले दर्ज कराए गए हैं और एक मामले में पटेल के खिलाफ कोर्ट में कारवाई जारी है. अंजुम-ए-हैदरी ट्रस्ट के मैनेजर जहारुल हसन ने बुधवार को अहमद पटेल की शिकायत दिल्ली पुलिस कमिश्नर, केन्द्रीय गृह मंत्रालय और प्रधानमंत्री कार्यालय को की थी. हसन ने दावा किया है कि करोड़ों रुपये की करबला की जमीन पर कब्जा करने के लिए अहमद पटेल अपने राजनीतिक कद का दुरुपयोग करते हुए शिया समुदाय को धमकाने का काम कर रहे हैं.

पत्नी को गुजारा भत्ता देने के मामले में पहला व्यक्ति जिसने नाम लिया राहुल गांधी का… आखिर क्या था ऐसा मामला?

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW