गोवा में मनोहर पर्रिकर की ताजपोशी पर SC ने स्टे से किया इंकार, कहा- संख्या है तो गवर्नर के सामने क्यों नहीं गए?

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट ने पर्रिकर के शपथ लेने पर रोक लगाने की मांग वाली कांग्रेस की याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि अगर आप पहले गवर्नर के पास अपने संख्याबल के साथ जाते और फिर सुप्रीम कोर्ट आते को हमारे लिए फैसला लेना आसान होता। मनोहर पर्रिकर आज सीएम पद की शपथ लेंगे। सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस की याचिका पर सुनवाई करते हुए पूछा है कि अगर आपके पास संख्या है तो संख्याबल के साथ गवर्नर के पास क्यों नहीं गए?

कोर्ट ने कांग्रेस को लताड़ लगाते हुए कहा कि अगर आप पहले गवर्नर के पास अपने संख्याबल के साथ जाते और फिर सुप्रीम कोर्ट आते को हमारे लिए फैसला लेना आसान होता। अगर आपके पास संख्या बल था तो पहले गवर्नर के पास जाना चाहिए था। सुप्रीम कोर्ट ने गोवा में बीजेपी सरकार को जल्द से जल्द बहुमत साबित करने का आदेश दिया है। कांग्रेस की ओर से अभिषेक मनु सिंघवी ने दलील दी कि गवर्नर ने सबसे बड़ी पार्टी होने के बाद भी सरकार गठन पर कांग्रेस की राय नहीं ली।

पूर्व अटर्नी जनरल हरीश साल्वे ने इस मामले पर सरकार का पक्ष रख रहे हैं। कांग्रेस का आरोप है कि गोवा की राज्यपाल को सबसे बड़े दल को पहले मौका देना चाहिए। बीजेपी को सरकार बनाने का मौका देने से विधायकों की खरीद-फरोख्त को बढ़ावा मिलेगा। वहीं, संसद के बजट सत्र में कांग्रेस ने इस मुद्दे को उठाया। हंगामे के बाद कांग्रेस के सांसदों ने लोक सभा से वॉकआउट किया।

Share This Post