संभल में आरएसएस के पथ संचालन के दौरान मुस्लिम महिलाओं ने फूल बरसाकर किया स्वागत

संभल : संभल को मिनी पाकिस्तान बनाने की देश द्रोहियों की कोशिशों को बड़ा झटका लगा है। सुदर्शन न्यूज की संभल के बिगड़ते हालात पर लगातार खबर चलाए जाने के बाद कठमुल्ले देश द्रोहियों ने सुरुक्षात्मक रवैया अख्तियार कर लिया है। जो षडयंत्रकारी कुछ दिन पहले तक यूपी पुलिस को कुछ नहीं समझ रहे थे और उन्हें घेर-घेरकर मारने की कोशिश कर रहे थे, अब अपने बचने का रास्ता ढूढ़ रहे हैं।

महिलाओं को आगे कर पीछे से पत्थर मारने वाले ये देशद्रोही अब छिप गए हैं और लोगों का ध्यान हटाने के लिए नई नई तरकीबें इजाद कर रहे हैं। आपको बता दें कि संभल के मोहल्ला दीपा सराय में बेजुबान पशुओं का कत्लखाना चलाने वाले कसाई वहां के नेता बर्क के इशारे पर काम करते हैं।

इनकी संख्या पूरे संभल में 10 हजार से भी ज्यादा है और बर्क के कहने पर ये कुछ ही घंटे के भीतर पूरे संभल को अशांत कर देने की ताकत रखते हैं। संभल में इनकी इतनी चलती रही कि ये जब जो चाहें वो कर दें लेकिन जब से सुदर्शन न्यून ने इनके खिलाफ मुहिम चलाई तब से वहां के स्थानीय हिंदू और पुलिस के लोगों में आत्मविश्वास जगा है।

पूरे दीपा सराय में अब पुलिस की तैनाती है और वहां देश विरोधी ताकतों की धरपकड़ तेज कर दी गई है। इससे समाज और देश विरोधी तत्व सक्रिय हो गए हैं। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि संभल में आरएसएस के पथ संचलन के दौरान अब मुस्लिम महिलाएं फूल बरसाने पर विवश हो गई हैं।

जो महिलाएं कभी पत्थर बरसाती थीं अब वो फूल बरसा रही हैं क्योंकि अब समाज विरोधी तत्वों को समझ में आ गया है कि उनकी मनमानी नहीं चलने वाली इसीलिए इन लोगों ने मुस्लिम महिलाओं को आगे कर दिया है। वो भी फूल बरसाने के लिए। ताकि, लोग समझें कि मुस्लिम तबका राष्ट्रवादी सोच और पहल के साथ है। ये दिखावा अभी सिर्फ राष्ट्रविरोधी तत्वों से द्यान हटाने के लिए है। सुदर्शन की मुहिम तब तक चलती रहेगी जब तक पूरा संभल देश द्रोहियों के चंगुल से मुक्त न हो जाए।

Share This Post