दरिंदगी की सारी हदें पार दी गईं हैदराबाद की डॉक्टर प्रिया रेड्डी के साथ.. हैवानों ने ह्त्या के बाद शव के साथ किया था बारी-बारी से रेप


हैदराबाद की डॉ. प्रिया रेड्डी के साथ गैंगरेप और फिर उनकी क्रूरतम ह्त्या के बाद पूरा देश आक्रोशित है तथा डॉक्टर के साथ हैवानियत करने वालों को फांसी की मांग कर रहा है. डॉक्टर के गैंगरेप और मर्डर की कंपा देने वाली घटना के मामले में अब जो खुलासा हुआ है, वो और भी अधिक झकझोर देने वाला है. जानकारी के मुताबिक़, डॉ. प्रिया रेड्डी की हत्‍या के बाद भी दरिंदे नहीं रुके थे और वो डॉक्‍टर का रेप करते रहे थे. कोर्ट में पुलिस की रिमांड रिपोर्ट में रोंगटे खड़े कर देने वाली और ज्‍यादा जानकारियां सामने आई हैं.

मीडिया सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़, केस की पुलिस रिमांड की रिपोर्ट को शनिवार को कोर्ट में जमा किया गया है. इस रिपोर्ट में कहा गया है कि चारों आरोपियों ने लॉरी केबिन में भी पीड़‍िता का बारी-बारी से बलात्‍कार किया था. चारों आरोपियों ने एक घंटे के अंदर इस पूरे अपराध को अंजाम दिया था. डॉक्‍टर को पहले एक खुले हुए प्‍लॉट में ले जाया गया, फिर उसे जबरदस्‍ती कोल्‍ड ड्रिंक में मिलाकर व्‍हीस्‍की पिलाई , फिर उसके सिर पर हमला हुआ. इसके बाद उसका बलात्‍कार किया गया और फिर उसे मार दिया.

हत्‍या के बाद उसके शव कसे लॉरी के केबिन में फेंक दिया गया और फिर एक-एक करके पीड़‍िता का बलात्‍कार किया गया. केबिन में इस कुकृत्‍य को अंजाम देने के बाद उन्‍होंने फैसला किया कि वो आगे निकल जाएंगे. लेकिन ट्रक से उतरकर वो सभी उसके कपड़े लेने के लिए वापस आए. शादनगर की तरफ जाने वाले नेशनल हाइवे पर वो बढ़ते रहे और फिर एक सूनसान जगह देकर उसके शव को जला दिया गया. शादनगर के चाटनपल्‍ली में रुकने के बाद उन्‍होंने उसके शव को एक कंबल में लपेटा और फिर उसे जलाने के लिए गाड़ी से उतरे. पीड़‍िता की पहचान कभी सामने न आने पाए, इसके लिए बलात्‍कारियों ने उसे जलाने का फैसला किया था.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share