Breaking News:

चीनी सरकार के आदेश से खलबली.. नए तरीके से लिखी जाएगी कुरान तथा बाइबिल


क्या कोई सोच भी सकता है कि इस्लामिक कुरान में परिवर्तन करते हुए उसे नए तरीके से लिखा जाए या फिर ईसाइयों की बाइबिल में परिवर्तन करते हुए उसमें उस देश के शीर्ष नेता के विचारों को जोड़ दिया जाए? ऐसा होना तो दूर, इस बता की कल्पना तक नहीं की जा सकती है लेकिन दुनिया में एक ऐसा देश है जहाँ न सिर्फ कुरआन बल्कि बाइबिल में भी संशोधन किया जा रहा है तथा वो देश है चीन.

जी हाँ, बाइबिल तथा कुरान को अपने हिसाब से लिखने की घोषणा करने वाले व्यक्ति का नाम है है शी जिनपिंग.. चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग. मीडिया सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के एक प्रमुख अधिकारी ने कहा है कि कुरान तथा बाइबिल के नए संस्करणों में ऐसी कोई भी बात नहीं होनी चाहिए जो कि कम्युनिस्ट पार्टी के विश्वासों के खिलाफ जाती हो. उन्होंने बताया कि जो भी पैराग्राफ गलत समझे जाएंगे, उनमें या तो बदलाव किया जाएगा या फिर उनका फिर से अनुवाद करवाया जाएगा.

इसका मतलब साफ है कि कुरान और बाइबल की नई किताबों में ऐसा कोई पैराग्राफ नहीं होगा जो कम्युनिस्ट पार्टी के विचारों से मेल नहीं खाता हो. अगर कंटेंट या पैराग्राफ में कोई भी चीज गलत लिखी होगी तो उसमें संशोधन किया जाएगा. कुरान तथा बाइबिल में बदलाव का आदेश नवंबर में नेशनल कमेटी ऑफ द चाइना पॉलिटिकल कंसलटेटिव कॉन्फ्रेंस की जातीय और धार्मिक समिति की एक बैठक में पास किया गया था. यह समिति चीन में जातीय और धार्मिक मामलों पर नजर रखती है.

चीन का कहना है कि इस फैसले से वह अपने समाजवादी मूल्यों की हिफाजत करेगा और कुरान और बाइबल में जो भी गलत कंटेंट लिखा होगा, उसको चीन अपने हिसाब से बदल देगा. पिछले महीने हुई कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना की केंद्रीय समिति की एक बैठक हुई थी. जिसमें 16 विशेषज्ञों, विश्वासियों और विभिन्न धर्मों के प्रतिनिधियों के एक समूह में भाग लिया. मीटिंग के चेयरमैन वांग यांग ने जोर दिया था कि धार्मिक अधिकारियों को राष्ट्रपति शी के निर्देशों का पालन करना चाहिए और ‘युग की आवश्यकताओं’ और ‘समाजवाद के मूल मूल्यों’ के अनुसार विभिन्न धर्मों की विचारधाराओं की व्याख्या करनी चाहिए. इसी के बाद कुरान तथा बाइबिल में बदलाव की बात कही गई.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share