Breaking News:

जानिये कैसे निमोनिया बन जाता मरीजों की मौत का कारण

अल्जाइमर नामक इस बीमारी के कारण व्यक्ति
की याददाश्त कमजोर हो जाती है। दरअसल, इस बीमारी के इलाज में आने वाली दवाओं से
निमोनिया होने का खतरा बढ़ जाता है।
अगर बड़ी
उम्र में दिमागी बीमारी अल्जाइमर के
इलाज में प्रयोग होने वाली

दवाओं का बहुत दुष्प्रभाव होता है।
शोधकर्ता कहते है कि इन दवाओं के प्रयोग

से निमोनिया होने का खतरा  बहुत बढ़ जाता है। अल्जाइमर से व्यक्ति की
याददाश्त
 कमजोर
होती चली जाती है।

 वैज्ञानिकों ने बताया कि अल्जाइमर के मरीजों को बेंजोडायजेपाइंस
व नॉन बेंजोडायजेपाइंस दवाएं दी जाती हैं। इससे निमोनिया
का
खतरा बढ़ता है। यूनिवर्सिटी ऑफ ईस्टर्न फिनलैंड के शोधकर्ता हेदी ताइपल
ने कहा
कि निमोनिया का खतरा बढ़ने संबंधी दवाओं का शोध अल्जाइमर के मरीजों को इलाज में
बड़ा
बदलाव आयेगा। निमोनिया से अल्जाइमर के मरीजों की मौत का कारण बनी हैं।

Share This Post