हिंदू देवी देवताओं का कई बार अपमान कर चुकी अमेजन ने इस बार अपमान किया सिख धर्म का अनादर. दर्ज हुई FIR


इस से पहले भी ये कम्पनी कई बार हिन्दुओ का अपमान कर चुकी है. उनकी भावनाओं को बार बार ठेस पहुचाने के लिए ऑनलाइन व्यापार करने वाली ये कम्पनी विदेशी ताकतों के इशारे पर हिन्दू धर्म के खिलाफ साजिश रचती आई है ये बहुत पहले से हिन्दू संगठन आरोप लगाते आ रहे हैं. कभी डोर मैट के माध्यम से तो कभी बाथरूम के सामानों के माध्यम से ये कम्पनी आये दिन गैर ईसाई मत और मजहबो को आघात दिया करती है, कुछ समय के विरोध के बाद इसका धंधा फिर से पूर्वत चलने लगता है.

लेकिन इस बार उसने हिंदुत्व के बजाय सिख धर्म को आघात दिया है. पाकिस्तान में अत्याचार झेल रहे सरदारों को उस समय दोहरा आघात लगा जब उनकी धार्मिक भावनाओ को आहत करते हुए अमेज़न ने ऐसा प्रोडक्ट मार्किट में उतारा जिसमे पवित्र स्वर्ण मन्दिर का अपमान हो रहा था. अब तक मिल रही जानकारी के अनुसार अमेजन ने एक विक्रेता को अपने प्लेटफॉर्म पर स्वर्ण मंदिर की छवि वाले टॉयलेट मैट्स को बेचने की अनुमति दी है। कंपनी पर इससे पहले भी इस तरह के आरोप लग चुके हैं।

इस अक्षम्य कृत्य पर फ़ौरन ही सवाल उठने लगे और इसका व्यापक विरोध भी तुरंत शुरू हो गया. दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीएमसी) के प्रमुख मनजिंदर सिंह सिरसा ने सिख धर्म के लोगों की धार्मिक भावना आहत करने का आरोप लगाते हुए अमेजन इंडिया के खिलाफ FIR दर्ज कराई है।  उन्होंने इसके साथ लिखा, ‘अमेजन सिख भावनाओं के प्रति लापरवाही दिखा रहा है।’ साथ ही उन्होंने इस ई-कॉर्मस कंपनी से कहा कि वह इस सेलर (विक्रेता) को बैन करे और उससे वैश्विक तौर पर माफीनामा जारी करने को कहे।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share