कई लोगों का खून बहाने का इरादा रखने वाला कश्मीर दुर्दांत आदिल सदा के लिए कर दिया गया खामोश. घाटी गूँज उठी जय हिन्द के नारों से


एक बार फिर से भारत की फ़ौज ने अपना वो स्वरूप दिखाया है जिसको दुनिया ने भारत के नये स्वरूप के साथ स्वीकार भी कर लिया है. LOC को लांघ कर जिस प्रकार से भारत की सेना ने पहले सर्जिकल स्ट्राइक किया और उसके बाद में एयर स्ट्राइक किया उसके चलते दुनिया को एक नया संदेश गया है और उसी के साथ भारत की फ़ौज ने आपरेशन क्लीन भी चलाया था जिसमे एक के बाद एक बुरहान , सब्जार , जाकिर मूसा जैसे आतंकियों को ढेर कर दिया गया.

सेना ने साफ़ कह रखा है कि या तो आतंकी हथियार त्याग कर मुख्यधारा में लौट जाएँ अन्यथा उनका हश्र भी मारे गये आतंकियों जैसा ही होगा. इस बात को शायद आदिल ने गंभीरता से नहीं लिया और उसके चलते वो भी उसी गति को प्राप्त हुआ. ध्यान रखने योग्य है कि भारत की फ़ौज ने जांबाजी दिखाते हुए शीर्ष लोगों की हत्या का इरादा रखने वाले कश्मीर के दुर्दांत आतंकी आदिल को सदा के लिए खामोश कर दिया है. आदिल के मरते ही देशभक्तों में चारो तरफ जश्न मनाया जाने लगा.

जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले में सोमवार को सुरक्षा बलों के साथ हुई एक मुठभेड़ में स्थानीय आतंकवादी आदिल गुलजार मारा गया. पुलिस ने बताया कि सुरक्षा बलों ने चादूरा क्षेत्र में आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने के बाद वहां घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू किया गया. यह मुठभेड़ तब शुरू हुई, जब उस आतंकवादी ने सुरक्षाबलों पर गोलियां चलानी शुरू कर दी, जिसके बाद सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई में आतंकी आदिल गुलजार मारा गया. आदिल गुलजार बडगाम का ही रहने वाला था.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share