ईरान में प्रदर्शन करने वालों पर पुलिस ने बरसाईं गोलियां.. जबकि भारत में पुलिस सुरक्षा में हो रहे ईरान के लिए प्रदर्शन


दुनिया की सबसे बड़ी महाशक्ति अमेरिका द्वारा इस्लामिक मुल्क ईरान के मेजर कासिम सुलेमानी को मार गिराए जाने के बाद दोनों देशों के बीच तनाव अभी भी बना हुआ है. ये तनाव उस समय चरम सीमा पर पहुँच गया था जब ईरान ने ईराक स्थित अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर मिसाइलों से हमला किया. ईरान के इसी हमले में यूक्रेन का यात्री प्लेन ध्वस्त हो गया था. इस विमान में करीब 170 यात्री सवार थे, जिन सभी की मौत हो गई.

जैसे ही इस बात का खुलासा हुआ कि यूक्रेन का विमान स्वतः क्रैश नहीं हुआ था बल्कि ईरानी हमले का निशाना बना था, दुनिया भर में हड़कंप मच गया. खुद ईरान की जनता अपनी ही सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतर आई तथा प्रदर्शन करने लगी. इसके बाद ईरानी सुरक्षा बलों तथा वहां की स्थानीय पुलिस ने प्रदर्शन करने वालों पर गोलियां बरसाईं. मीडिया सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़, ईरान पुलिस और सुरक्षा बलों ने यूक्रेन के विमान को मार गिराए जाने के विरोध में जुटे प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए गोलियां चलाईं और आंसू गैस के गोले दागे.

आश्चर्य देखिये कि ईरान में जब लोग प्रदर्शन करने के लिए सड़कों पर उतरे तो वहां की पुलिस ने गोलियां चलाईं जबकि भारत में उसी ईरान के पुलिस सुरक्षा में प्रदर्शन किये जा रहे हैं. जब अमेरिका ने ईरानी जनरल कासिम सुलेमानी को मार गिराया था तो भारत में तमाम जगहों में पर ईरान के समर्थन में पुलिस प्रोटक्शन में प्रदर्शन हुए थे. और अब जब ईरान में ही जनता प्रदर्शन करने सड़क पर उतरी तो पुलिस ने उनका स्वागत बन्दूक की गोलियों से किया. बता दें कि ईरान के कथित उदारवादी संगठन यूक्रेन के विमान को ईरानी हमले में मार गिराए जाने की खबर सामने आने के बाद सरकार की आलोचना कर रहे हैं.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share